इस गाने को गाते-गाते मोहम्मद रफी के मुंह से आ गया था खून, एक अपराधी ने इसे फांसी से पहले सुना था – Mohammed Rafi 93rd Birthday: Google Doodle remember Indian successful singers of the Hindi film industry on his birth anniversary with its special doodle

भारत के महान गायक मोहम्मद रफी की 93वीं जयंती पर आज गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। अपनी गायकी से लोगों के दिलों पर राज करने वाले रफी 24 दिसंबर 1924 को पंजाब के अमृतसर जिले के मजिठा के पास कोटला सुल्तान सिंह गांव में जन्मे थे। तीन दशक के करियर में उन्होंने अनगिनत हिट गाने दिए। कव्वाली, सूफी, भक्ति, रोमांटिक और इमोशनल गानों में रफी का कोई सानी नहीं था। रफी साहब जिस स्केल पर आराम से गाते थे, उस पर कई गायकों को चीखना पड़ेगा। लेकिन क्या आज जानते हैं कि एक गाना एेसा भी था, जिसे गाते-गाते रफी के मुंह से खून आ गया था। वह गाना था फिल्म ”बैजू बावरा” का ‘ओ दुनिया के रखवाले’। इस गाने के लिए रफी ने 15 दिन रियाज किया था। लेकिन गाने के बाद उनकी आवाज इस कदर टूटी कि लोगों का यहां तक कहा कि वह अपनी आवाज दोबारा हासिल नहीं कर पाएंगे। लेकिन एेसा नहीं हुआ और कुछ वर्षों बाद उन्होंने फिर यह इस गाने को रिकॉर्ड किया और पहले से भी ऊंचे स्केल पर गाया, वह भी बिना किसी परेशानी के।

इस गीत से जुड़ा है दिलचस्प किस्सा: संगीतकार नौशाद मोहम्मद रफी के बारे में एक किस्सा बताते थे। एक बार किसी अपराधी को फांसी दी जा रही थी। जब उससे आखिरी इच्छा पूछी गई तो उसने न तो किसी खास खाने की फरमाइश की और न ही अपने परिवार से मिलने की। उसने कहा कि वह मरने से पहले रफी साहब का ओ दुनिया के रखवाले सुनना चाहता है। यह इच्छा सुनकर जेलकर्मी भी दंग रह गए। इसके बाद टेप रिकॉर्डर लाकर यह गाना बजाया गया था।

किशोर के लिए भी गाए गाने: मोहम्मद रफी और किशोर कुमार दोनों अलग ही मिजाज के गायक थे और समकालीन भी। मोहम्मद रफी ने गायकी सीखी थी और किशोर कुमार स्वाभाविक जीनियस थे। लेकिन 8 गाने एेसे भी थे, जिसमें पर्दे पर किशोर कुमार थे और आवाज मोहम्मद रफी की।

Also Read

  • मोहम्मद रफी: अपने ड्राइवर के लिए हो गए थे बेहद परेशान; जितने बड़े गायक, उतने बड़े इंसान
  • पिता राज को ऋषि कपूर में हमेशा नजर आती थी कमी, वजह बताई तो…

सुनिए मोहम्मद रफी के कुछ सुरीले गीत:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App


हिंदी
English
  1. No Comments.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *