Kangana Ranaut clarifies his stand on refusing Shabana Azmi Deepika Bachao Petition – शबाना आजमी ने किया कंगना रनौत का चरित्र हनन? पद्मावती विवाद पर ‘क्वीन’ ने सुनाई खरी-खरी

पिछले काफी समय से संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती एक बड़े मुद्दे के तौर पर उभरी है। इस फिल्म ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री को एक साथ लाकर खड़ा किया है। बहुत से सेलिब्रिटिज की तरफ से फिल्म को समर्थन मिल रहा है। इसी बीच वरिष्ठ एक्ट्रेस शबाना आजमी ने दीपिका बचाओ अभियान की शुरुआत की थी। जिसमें उन्हें आलिया भट्ट, प्रियंका चोपड़ा, जया बच्चन और हेमा मालिनी से सपोर्ट मिला था लेकिन कंगना ने इसे अपना समर्थन देने से साफ मना कर दिया था।

शबाना आजमी सभी बड़े सेलिब्रटिज से इस याचिका को साइन करवाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास भेजेंगी। इस याचिका का उद्देश्य दीपिका की सुरक्षा को सुनिश्चित करना है। कंगान जो इस समय अपनी अपकमिंग फिल्म मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी की शूटिंग में बिजी हैं उन्होंने याचिका पर साइन ना करने के पीछे की असली वजह बताई है। उन्होंने एक बयान जारी कर कहा- मैं जोधपुर में मणिकर्णिका की शूटिंग कर रही थी जब मुझे अपनी प्रिय दोस्त अनु्ष्का शर्मा ने फोन किया। उन्होंने मुझे शबाना आजमी की लिखित याचिका के बारे में बताया। मैंने उन्हें समझाया कि दीपिका पादुकोण को मेरा पूरा समर्थन है लेकिन मैं शबाना आजमी के लाइट और लेफ्ट विंग की राजनीति से दूर रहना चाहती हूं।

संबंधित खबरें

कंगना ने आगे कहा- देश में इस समय जो परिस्थितियां हैं उसपर मेरा अपना एक नजरिया है। मैं खुद की ही कई चीजों में बाधक बनती रही हूं और ‘दीपिका बचाओ’ जैसी महिलावादी आंदोलनों का हिस्सा रही हूं, जिसे उसके द्वारा चलाया जा रहा था जिसने छेड़छाड़ के बाद मेरा चरित्र हनन किया था। ऐसा लगता है कि यह उन्हीं में से एक है। अनुष्का मेरी बात को समझ गईं और मुझे खुशी है कि वो मेरे पास पहुंचे। जैसा कि मैंने पहले भी कहा है कि दीपिका को मेरा पूरा सपोर्ट है। बिना किसी और का सपोर्ट लिए जो लोग मुझे सही लगते हैं उनका समर्थन करने के लिए मैं व्यक्तिगत रूप से समर्थ हूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *