When Mehmood father Mumtaz Ali sold his Home goods for the alcohol, Mehmood Flailing to stop bicycles – जब शराब की खातिर घर के सामान समेत बेच दी साइकिल, पिता को रोकने के लिए घिसटते चले गए महमूद

महमूद एक जमाने में कॉमेडी फिल्मों के किंग थे। दिखने में मस्त-मौला और खुश थे लेकिन जिंदगी के शुरुआती दिन बड़े गम भरे रहे। आप सोच भी नहीं सकते कि इतना खुशमिजाज शख्स कठिन दौर से गुजरा होगा। फिल्मों में काम करने से पहले महमूद अंडे बेचने और टैक्सी चलाने जैसे काम करते थे। महमूद डायरेक्टर पीएल संतोषी के ड्राइवर थे। दशकों बाद उनके बेटे राजकुमार संतोषी की फिल्म अंदाज अपना अपना में महमूद ने काम किया। इसके बाद जब महूमद के फिल्मी सफर ने रफतार पकड़ी तो 4 दशक चलता रहा, उन्होंने करीब 300 फिल्मों में काम किया। चलिए आज हम आपको महमूद से जुड़ा एक रोचक किस्सा बताते हैं जब पिता को शराब के लिए साइकिल बेचने से रोकने के लिए वह दूर तक घिसटते चले गए थे।

महमूद के पिता मुमताज अली के बेटे हैं। मुमताज अली 40-50 के दशक के जाने में एक्टर थे। वह स्टेज एक्टर के अलावा बतौर डांसर के रूप में भी जाने जाते थे। वहीं माता मीनू मुमताज ने भी बॉलीवुड की फिल्मों में काम कर चुकी हैं। पिता मुमताज अली का करियर कभी आसमान छूता था लेकिन शराब की तल ने उनके करियर को खत्म कर दिया। उन्हें शराब की इतनी बुरी लत चुकी थी कि वह शराब के लिए घर का सामान भी बेच देते थे।

संबंधित खबरें

उन्हीं दिनों बच्चे महमूद ने पिता को अपनी प्यारी साइकिल ले जाते देखा। वह भांप गए कि पिता इस बार शराब के लिए उनकी साइकिल बेचने निकल पड़े हैं। यह देख महमूद ने पिता को काफी मनाने की कोशिश की लेकिन पिता पर कोई सब बेअसर हो रहा था। यहां तक कि जब पिता मुमताज साइकिल लेकर जा रहे थे तो उन्हें रोकने के लिए महमूद साइकिल को पीछे से रोकने लगे और दूर तक घिसटते चले गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *