चारा घोटाला मामले में लालू यादव दोषी करार तो बेटी मीसा के खिलाफ दायर हुई चार्जशीट, मनी लॉन्ड्रिंग का है आरोप – ED files chargesheet against Lalu daughter Misa bharti in money laundering case

बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाला मामले से जुड़े एक मुकदमे में रांची स्थित सीबीआई की विशेष अदालत शनिवार (23 दिसंबर) को फैसला सुनाया। जगन्‍नाथ मिश्रा, ध्रुव भगत, विद्या सागर बरी कर दिए गए हैं। प्रमुख आरोपी व घोटाले के समय बिहार के सीएम रहे लालू प्रसाद यादव, पीएसी के तत्कालीन अध्यक्ष जगदीश शर्मा, आर के राणा, तीन आईएएस अधिकारी फूलचंद सिंह, बेक जूलियस एवं महेश प्रसाद, कोषागार के अधिकारी एस के भट्टाचार्य, पशु चिकित्सक डा. के के प्रसाद तथा शेष अन्य चारा आपूर्तिकर्ताओं को दोषी ठहराया गया है। सभी दोषियों को 3 जनवरी को सजा सुनाई जाएगी। सजा के ऐलान तक दोषी जेल में ही रहेंगे। देवघर कोषागार से अवैध ढंग से पैसा निकालने के मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र एवं कई अन्य राजनेताओं तथा आईएएस अधिकारियों समेत 22 आरोपी रांची में सीबीआई की विशेष अदालत में शनिवार सुबह पेश हुए थे।

बड़ी खबरें

दूसरी ओर लालू की बेटी मीसा भारती के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में उनके खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है। राज्य सभा सांसद मीसा भारती, उनके पति और अन्य लोगों पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। बता दें कि फैसला आने से पहले लालू प्रसाद यादव ने मीडिया से बातचीत में कहा कि भाजपा राजनीतिक विद्वेष के चलते उनके पीछे लगी हुई है लेकिन वह इससे बिलकुल डरते नहीं हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा की नकारात्मक राजनीति का हिसाब अगले चुनाव में जनता लेगी। राजद के भविष्य पर पूछे गए सवाल के जवाब में लालू ने कहा कि राजद का प्रत्येक कार्यकर्ता लालू प्रसाद यादव है। ऐसे में उनके जेल जाने या ना जाने से पार्टी के भविष्य पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *