‘जनादेश के बलात्कारी’ के इलाज के लिए लालू ने पूछा डॉक्टर, टि्वटर ने सुझाया मोदी-सीबीआई का नाम – RJD chief Lalu yadav trolled on twitter for calling Bihar CM and jdu president Nitish kumar rapist of mandate

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव अपने एक ट्वीट के लिए सोशल मीडिया के निशाने पर आ गये। लालू यादव को इस ट्वीट के लिए काफी खरी-खोटी सुननी पड़ी। लालू यादव ने बिना किसी का नाम लिये ट्वीट किया, ‘क्या आप दिन-दहाड़े जनादेश का निर्मम बलात्कार करने वाले मैंडेट रेपिस्ट का मानसिक उपचार करने वाले किसी देशभक्त मनोचिकित्सक को जानते है?’ लालू यादव ने एक और ट्वीट किया, ‘क्या आप “पेट के दाँत” ठीक करने वाले किसी डेंटिस्ट को जानते है? बिहार में जनादेश का एक मर्डरर है जिसके पेट में दाँत है। उसने सभी नेताओं और पार्टियों को ही नहीं बल्कि करोड़ों ग़रीब-गुरबों को भी अपने विषदंत से काटा है।’ इन ट्वीट्स में लालू यादव ने किसी का नाम नहीं लिया है, लेकिन माना जा रहा है कि उनका ये ट्वीट बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर तंज है। ट्वीटर यूजर्स ने इन दोनों ट्वीट्स पर आपत्ति जताई है। लालू यादव को जवाब देते हुए एक यूजर्स ने उनपर तंज कसा और लिखा, ‘जानता तो मैं ऐसे 3, 4 मनोचिकित्सक को हूँ पर पहले तेजस्वी से पूछ लेते, की क्या वो इलाज करवाने के लिए तैयार है?’

संबंधित खबरें

बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी का जिक्र कर एक यूजर ने लिखा, ‘राबड़ी देवी जी का भी थोड़ा बहुत इलाज करवाना पड़ेगा, वह भी आजकल लोगों के गले काटने की धमकी देने लगी हैं। बता दें कि राबड़ी देवी ने पीएम मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था। एक यूजर ने लिखा कि, ‘बिहार में जनादेश का निर्मम बलात्कार नही बिहार को जंगलराज बनाने वालों का अंतिम संस्कार हो रहा है।’

एक शख्स ने लिखा, ‘हां ऐसे मनोचिकित्सक को जानता हूं उसका नाम है सीबीआई, जो आपका भी इलाज कर रहा है।’ सोशल मीडिया की एक यूजर ने लालू के सवाल का चुटीले अंदाज में जवाब दिया और कहा, ‘हाँ जी…उनका नाम नरेंद्र दामोदरदास मोदी है। आपका इलाज़ तो उन्होंने शुरू भी कर दिया है, बहुत जल्द ही पूरा हो जायेगा।’ हालांकि एक यूजर ने लालू यादव के समर्थन में ट्वीट किया और लिखा, ‘मैं “संघ” का बेटा हूँ, मेरा बाप “चुनाव आयोग” है और मेरी माँ “EVM” देवी हैं, बताओ मैं कौन?’ बता दें कि लालू यादव ने इससे पहले नीतीश कुमार को हत्यारा और चोर बताया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *