पाकिस्‍तान में कुलभूषण जाधव के परिवार से बदतमीजी का मामला गर्माया, संसद में बयान देंगी सुषमा स्‍वराज – Sushma Swaraj will Make A Statement in Parliament in Case of Insolence with Kulbhushan Jadhav Family by Pakistan

भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ पाकिस्तान में दुर्व्यवहार का मुद्दा बुधवार को लोकसभा में उठा और सदस्यों ने पड़ोसी देश के इस कृत्य की कड़ी निंदा की। इस मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज गुरुवार को सदन में बयान देंगी। शून्यकाल में शिवसेना के अरविंद सावंत, तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय, कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे, अन्नाद्रमुक के एम थम्बीदुरई समेत अनेक सदस्यों ने सदन में इस मुद्दे को उठाया। इस पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि वह इस विषय पर कल सदन में वक्तव्य देंगी। सदन में इस मुद्दे को उठाते हुए शिवसेना के अरविंद सावंत ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय अदालत के दबाव में पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव के परिवार को उनसे मिलने की इजाजत तो दी लेकिन जाधव की मां और पत्नी के साथ जिस तरह की बदसलूकी की, उसकी कड़ी भर्त्सना की जानी चाहिए।

सावंत ने कहा कि उनकी मां और पत्नी की बिंदी, मंगलसूत्र और यहां तक जूते भी उतरवा लिए गए और बातचीत के समय उनके बीच कांच की दीवार लगा दी गई। इसके अलावा उन्हें अपने मातृभाषा मराठी में बात नहीं करने दी गई। शिवसेना सांसद ने कहा, ‘‘पाकिस्तान के इस बर्ताव की जितनी भर्त्सना की जाए, कम है। पाकिस्तान का अर्थ विश्वासघाती है। जाधव को जब तक वापस नहीं लाया जाएगा, हमें चुप नहीं रहना चाहिए।’’

संबंधित खबरें

तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय ने पाकिस्तान में जाधव परिवार के साथ हुए दुर्व्यवहार की निंदा करते हुए कहा कि पड़ोसी देश ने घटिया हरकत की है। देश के हर कोने से इसकी निंदा होनी चाहिए। उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से इस मुद्दे पर सदन में बयान देने की मांग की। सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पाकिस्तान ने जाधव की मां और पत्नी के साथ जो बर्ताव किया है, हम उसका विरोध करते हैं। हम सब उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि जाधव को वापस लाकर देश में मिसाल कायम की जानी चाहिए।

अन्नाद्रमुक के एम थंबिदुरई ने भी निंदा करते हुए सदस्यों के साथ समर्थन जताया। अन्य कई सदस्यों ने भी इस मुद्दे पर अपना समर्थन जताया। गौरतलब है कि जाधव की मां और पत्नी ने सोमवार को उनसे पाकिस्तान में मुलाकात की थी। इस दौरान जाधव की मां और पत्नी की चूड़ियां, बिंदी, मंगलसूत्र उतरवा लिया गया था। मंगलवार को विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा था कि यह स्पष्ट रूप से आपसी समझ की भावना का उल्लंघन है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *