पीएम मोदी के आरोपों पर पाकिस्तान का पलटवार- चुनावी बहस में हमें न घसीटें – after PM Narendra Modi allegation over Gujarat election pakistan said don’t drag us on your election debate win your own strength

गुजरात चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर है। दोनों ही पार्टियां चुनावी रैलियों में एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं। हाल ही में एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात चुनावों में पाकिस्तान का हाथ होने का आरोप लगाया था जिसके बाद राजनीतिक माहौल और गरमा गया है। पीएम मोदी के आरोपों पर पाकिस्तान ने भी पलटवार किया है। पाकिस्तान का कहना है कि अपनी चुनावी बहस में भारत पाकिस्तान को न खींचे। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैजल ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा “भारत को अपने चुनावी बहस में पाकिस्तान को बीच में नहीं घसीटना चाहिए। उन्हें अपने दम पर जीत हासिल करनी चाहिए, बजाए इसके कि वे मनगढ़ंत षड़यंत्र रचें जो कि पूरी तरह से निराधार और गैरजिम्मेदार है।”

बड़ी खबरें

आपको बता दें कि रविवार को पालनपुर में चुनावी प्रचार के दौरान मोदी ने मणि शंकर अय्यर के दिल्ली स्थित घर पर हुई बैठक के बारे में बात करते हुए कहा था कि ‘गुजरात चुनाव में पाकिस्तान की दखलअंदाजी हो रही है।’ उन्होंने कहा था कि ‘कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने अय्यर के घर पाकिस्तान के नेताओं से मुलाकात की थी और अगले दिन ही अय्यर ने अपने एक बयान में मोदी को नीच कह दिया था।’ पीएम ने यह भी कहा था कि ‘क्या आपको ऐसी घटनाओं पर शक नहीं होता। यह बहुत ही गंभीर मामला है क्योंकि इस बैठक के बाद ही गुजरात के लोगों, पिछड़ी जातियों, गरीबों और मोदी का अपमान किया गया।’

मीडियो रिपोर्ट्स के अनुसार मणि शंकर अय्यर के आवास पर हुई बैठक में पाकिस्तान के उच्चायुक्त, पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री, भारत के पूर्व उपराष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने हिस्सा लिया था। मोदी ने अपने भाषण में यह भी कहा था कि ‘अय्यर के आवास पर तकरीबन तीन घंटे तक बैठक चली।’ उन्होंने कहा कि ‘कांग्रेस को देश की जनता को बताना चाहिए कि बैठक में क्या योजना बन रही थी।’ गौरतलब है कि गुजरात में 9 दिसंबर को पहले चरण के वोट डले थे और दूसरे चरण के वोट 14 दिसंबर को डाले जाने हैं। इन चुनावों के नतीजे 18 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *