बाबा वीरेंद्र दीक्षित के आश्रम में मिले तहखाने, छुड़ाई गईं और लड़कियां, हर दिन करता था 10 रेप – Basement found in Baba Virendra Dev Dixit ashram in UP

आध्यात्मिक यूनिवर्सिटी के नाम पर चलाए जा रहे आश्रम में यौन शोषण के मामले में शनिवार (23, दिसंबर) को भी बड़ी कार्रवाई हुई। पुलिस ने यूपी के फर्रुखाबाद में आरोपी बाबा वीरेंद्र दीक्षित के आश्रम से एक और युवती को आजाद कराया है। रेड करने पहुंची पुलिस को आश्रम में तहखाने भी मिले हैं। इनकी जांच की जा रही है। शनिवार को दिल्ली के द्वारका से पांच और लड़कियों को छुड़ाया गया है। इससे पहले बीते गुरुवार और शुक्रवार को दिल्ली के उत्तम नगर से 70 लड़कियों को बाबा के चुंगल से आजाद कराया गया था। शुक्रवार को ही राजस्थान के माउंट आबू और यहां के अन्य आश्रमों से 65 लड़कियों को छुड़ाया गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अबतक वीरेंद्र देव दीक्षित के पांच आश्रमों से 150 महिलाओं और युवतियों को आजाद कराया जा चुका है। चौंकाने वाली बात यह है कि जिन्हें आजाद कराया गया है उनमें 40 से ज्यादा लड़की नाबालिग हैं। वहीं आरोपी वीरेंद्र को पुलिस अभी तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है, हालांकि हाईकोर्ट ने उसे चार जनवरी को कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया है।

बता दें कि आश्रम के संस्थापक आरोपी बाबा वीरेंद्र ने देशभर में इस तरह के आश्रम खोल रखे हैं जहां पर प्रत्येक आयु की लड़कियां रहती हैं। रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि आरोपी बाबा भगवान कृष्ण की तरह 16 हजार पत्नियां बनाना चाहता था। रिपोर्ट में यह कहा गया है कि बाबा के आश्रम में रहने वाली लड़कियों के मुताबिक आरोपी बाबा रोजाना 10 लड़कियों का रेप करता था। इतना ही नहीं आरोपी लड़कियों के बारे में यह भी जानकारी रखता था कि उन्हें पहला मासिक धर्म कब आता है। जैसे ही किसी लड़की को मासिक धर्म होता तो आरोपी उसे अपने कमरे में ले जाता था, जहां पर वह उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता था।

बाबा के एक पुराने अनुयायी ने मेल टुडे को बताया कि बाबा नशे का आदी था। आरोपी बाबा लड़कियों के द्वारा दूषित नहीं होना चाहता था इसलिए वह हमेशा अपने साथ कंडोम रखता था। बाबा ने अपने लिए एक अनुयायी रखा था जो कि आरोपी के लिए केवल कंडोम लाने का काम किया करता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *