बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने किया बरी – A Delhi Mother finds adult content and objectionable item in her daughter purse files rape case Delhi court acquits rape accused crime news

दिल्ली की एक विशेष अदालत ने रेप के आरोपी एक शख्स को बरी कर दिया है। इस केस का सबसे दिलचस्प पहलु यह है कि कथित पीड़ित लड़की की मां ने अपनी बेटी के हैंडबैग में तीन इस्तेमाल किये हुए कंडोम देखे थे इसके बाद ही उसने आरोपी के खिलाफ रेप का केस दर्ज करवाया था। अदालत ने पाया कि लड़की और शख्स ने सहमति से सेक्स संबंध बनाये थे। अदालत के मुताबिक लड़की ने संबंध बनाने के बाद इस उद्देश्य से कंडोम अपने बैग में रख लिये थे ताकि मौका देखकर उसे सही जगह पर फेंक दिया जा सके। FIR में यह आरोप लगाया गया था कि आरोपी ने 20 साल की लड़की से शादी का वादा कर संबंध बनाये थे। लेकिन कोर्ट ने पाया कि रेप का ये मुकदमा सिर्फ इसलिए दर्ज किया गया क्योंकि लड़की के मां-बाप को उसके शारीरिक संबंध के बारे में पता चल गया था। अदालत ने पाया कि FIR दर्ज करने की वजह शादी के झूठे वादे से लड़की का दुखी होना नहीं था।

संबंधित खबरें

यह मामला इसी साल के फरवरी महीने का है। अदालत में दाखिल किये गये पेपर्स के मुताबिक जब लड़की और आरोपी ने एक होटल में संबंध बनाये थे। जब लड़की घर पहुंची तो उसकी मां ने उसे बैग में तीन कंडोम पाये। इसके बाद लड़की ने पूरी कहानी अपनी मां को बतायी। लड़की की मां ने तुरंत 100 नंबर पर कॉल कर मामला दर्ज कराया। मामले में फैसला सुनाते हुए एडिशन सेशन जज गौतम मनन ने कहा, ‘इस केस के तथ्य ये इशारा करते हैं कि अगर लड़की की मां ने बेटी के बैग में तीन कंडोम नहीं देखे रहते तो FIR नहीं दर्ज करवाया जाता। अदालत ने कहा कि महिला ने भी इस बात को स्वीकार किया है कि वो आरोपी के माता-पिता से मिल चुकी है लेकिन इस दौरान शादी की बात नहीं हुई थी।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा, ‘लड़की ने माना है कि उसके माता-पिता इस दोस्ती के बारे में नहीं जानते थे, लड़की द्वारा ये स्वीकार किया जाना कि दोनों के बीच शादी की कोई बात नहीं हुई थी, इस दावे को ध्वस्त कर देता है कि लड़की ने आरोपी से यह सोचकर शारीरिक संबंध बनाए कि वो उससे शादी करेगा।’ अदालत ने यह भी कहा कि लड़की की मां को दोनों की दोस्ती के बारे में तभी पता चला जब उसने अपने बेटी के बैग में कंडोम देखा। अदालत ने कहा कि लड़की को ये तय करने के लिए पर्याप्त समझ और ज्ञान था कि जिस काम के बारे में उसने सहमति दी है उसकी क्या अहमियत है और इससे जुड़ी नैतिकता क्या होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *