हिंदुओं को आईएसआईएस से जोड़ने पर बैकफुट पर तसलीमा नसरीन, दी यह सफाई – Writer Tasleema Nasreen on backfoot over her comparison hindu with ISIS tweet now she clarify

बांग्लादेश से निकाली गईं जानीमानी लेखिका तसलीमा नसरीन हिंदुओं को कुख्यात आतंकी संगठन आईएसआईएस से जोड़ने वाले बयान को लेकर बैकफुट पर आ गई हैं। तसलीमा नसरीन ने हाल ही में राजस्थान के राजसमंद में पश्चिम बंगाल के रहने वाले एक मुस्लिम मजदूर की हत्या किए जाने को लेकर एक लेख लिखा था। इस लेख में उन्होंने कहा था कि अफराजुल की हत्या उस तरह की गई जैसे कि आईएसआईएस के आतंकी करते हैं। हिंदू भी ऐसा कर सकते हैं? इस लेख को लेकर लोगों ने तसलीमा नसरीन की काफी आलोचना की और इसे हिंदुओं का अपमान बताया। लोगों का कहना है कि तसलीमा ने हिंदुओं की तुलना आईएसआईएस से की है।

वहीं अपने लेख पर तसलीमा नसरीन ने सफाई दी है कि उन्होंने हिंदुओं की तुलना आईएसआईएस से नहीं की है। तसलीमा नसरीन ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा “मेरी आलोचना करने के लिए कुछ लोग अपना बेस्ट देने की कोशिश कर रहे हैं। मैंने कहा था कि एक आदमी ने दूसरे आदमी की हत्या कर दी और हत्या का वीडियो सोशल मीडिया पर डाला जिसपर लिखा था यह कृत्य आईएसआईएस की तरह है लेकिन ये लोग यह कहकर झूठ बोल रहे हैं कि मैंने हिंदुओं की तुलना आईएसआईएस से की। क्यों झूठ है?”

नसरीन के इस ट्वीट पर कई लोग प्रतिक्रिया दे रहे हैं और उनकी फिर से जमकर आलोचना कर रहे हैं। एक यूजर ने तसलीमा नसरीन के उस ट्वीट का स्क्रीनशॉट डाला है जिसमें उन्होंने लिखा था राजस्थान के इस कांड को लेकर हिंदुओं पर टिप्पणी कर दी थी। इस यूजर ने लिखा इंटरनेट कभी नहीं भूलता, कृपया करके ऐसे बयान देने से पहले अपने पिछले ट्वीट डिलीट कर दिया करें। एक ने लिखा अच्छा प्रयास तसलीमा, अगली बार से आईएसआईएस के साथ तुलना करने से पहले सतर्क रहना। जब ऐसा करते हैं तो धर्म अपने आप ही इसके अंदर आ जाता है और आईएसआईएस केवल एक माफिया नहीं है, यह एक धार्मिक कट्टरपंथी आतंकी संगठन है। जय श्री राम।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *