39th Mann Ki Baat: PM Narendra Modi to address the nation for the last time in 2017 – मन की बात: 2017 के आखिरी दिन रेडियो पर क्‍या बोले पीएम नरेंद्र मोदी, पढ़‍िए

साल 2017 के आखिरी दिन, 31 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘मन की बात’ के 39वें एपिसोड में राष्‍ट्र को संबोधित कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ घंटों बाद वक्‍त बदल जाएगा मगर हमारी बातों का सिलसिला यूं ही जारी रहेगा। मोदी ने कहा, ”आप सबको 2018 की अनेकानेक शुभकामनाएं।” मोदी ने आगे कहा, ”अभी क्रिसमस का त्‍योहार धूमधाम से मनाया गया। यह त्‍योहार सबको सेवा का संदेश देता है।” प्रधानमंत्री ने ईसा मसीह, रामकृष्‍ण परमहंस, गुरु गोविंद सिंह जी के योगदान को याद करते हुए लोगों को प्रेरित किया। उन्‍होंने कहा, ”हमारे देश में निष्काम कर्म की बात होती है, यानी ऐसी सेवा जिसमें कोई अपेक्षा न हो। कहा गया है – “सेवा परमो धर्मः” ‘जीव-सेवा ही शिव-सेवा’ और गुरुदेव रामकृष्ण परमहंस तो कहते थे – शिव-भाव से जीव-सेवा करें। पूरे विश्व में ये सारे समान मानवीय मूल्य हैं। मोदी ने कहा, ”मेरे लिए 1 जनवरी विशेष दिन है। जो लोग वर्ष 2000 या उसके बाद जन्‍मे हैं, वे 1 जनवरी 2018 से वोटर बनना शुरू हो जाएंगे। भारतीय लोकतंत्र न्‍यू इंडिया वोटर्स का स्‍वागत करता है।” पीएम ने युवाओं से खुद को वोटर के रूप में रजिस्‍टर कराने की अपील की। मोदी ने कहा, ”21वीं सदी के वोटर होने के नाते आप भी गौरव का अनुभव करते होंगे। आपका वोट न्‍यू इंडिया का आधार बनेगा। वोट की शक्ति, लोकतंत्र में सबसे बड़ी शक्ति है। लाखों लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए ‘वोट’ सबसे प्रभावी साधन है।” पीएम ने युवाओं ने ‘न्‍यू इंडिया’ के लिए आगे आने की अपील करते हुए कहा, ”मैं चाहूंगा कि सभी योजनाओं की जानकारी युवाओं को मिले और इस बारे में कोई ऐसी व्‍यवस्‍था बने ताकि उन्‍हें नई जानकारी मिल सके।”

बड़ी खबरें

पीएम ने कहा, ”क्या हम भारत के हर ज़िले में एक मॉक पार्लियामेंट आयोजित कर सकते है? जहाँ 18 से 25 वर्ष के युवा, New India पर मंथन करें, रास्ते खोजें, योजनाएँ बनाएँ। अपने संकल्पों को 2022 से पहले कैसे सिद्ध कर सकते हैं।” प्रधानमंत्री ने कहा, ”कश्मीर की प्रशासनिक सेवा के टॉपर अंजुम बशीर खान खट्टक की कहानी वाकई प्रेरणादायी है। उन्होंने आतंकवाद और घृणा के दंश से बाहर निकल कर Kashmir Administrative Services की परीक्षा में टॉप किया। अंजुम ने साबित कर दिया है कि हालात कितने ही ख़राब क्यों न हों, सकारात्मक कार्यों के द्वारा निराशा के बादलों को भी ध्वस्त किया जा सकता है।”

महात्‍मा गांधी को याद करते हुए मोदी ने कहा, ”शहरी क्षेत्रों में स्वच्छता के स्तर की उपलब्धियों का आकलन करने के लिए आगामी 4 जनवरी से 10 मार्च 2018 के बीच दुनिया का सबसे बड़ा सर्वे ‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2018’ किया जाएगा।” उन्‍होंने कहा कि ”जब भी कभी विश्व के प्रसिद्ध धार्मिक-स्थलों की चर्चा होती है तो केरल के सबरीमाला मंदिर की बात होनी बहुत स्वाभाविक है। विश्व-प्रसिद्ध इस मंदिर में, भगवान अय्यप्पा स्वामी का आशीर्वाद लेने के लिए हर वर्ष करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु यहां आते हैं। केरल के सबरीमाला मंदिर में चल रहा ‘पुण्यम पुन्कवाणम’ कार्यक्रम देश को स्वच्छ करने हेतु एक बहुत अच्छा और प्रेरणादायी उदाहरण है।”

मोदी ने सरकार द्वारा उठाए गए कदम गिनाते हुए कहा, “हाल में ही मुझे पता चला कि यदि कोई मुस्लिम महिला हज यात्रा पर जाना चाही है तो वह किसी मर्द सदस्य के बिना नहीं जा सकती। मैं इस पर हैरान था कि यह कैसा भेदभाव है। लेकिन अब वे अकेली हज यात्रा पर जा सकती हैं। हमारी Ministry of Minority Affairs ने आवश्यक कदम उठाते हुए मुस्लिम महिलाओं को हज पर बिना महरम के जाने पर लगी पाबन्दी को हटाया और सत्तर साल से चली आ रही परंपरा को ख़त्म किया।”

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को नव वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए साल के आखिरी मन की बात का समापन किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *