After neech Aadmi remark from Mani Shankar Aiyar, Arnab Goswami challenges him for live debate – मणिशंकर अय्यर ने मोदी को कहा नीच तो भड़के अर्णब गोस्वामी, दी खुली चुनौती

कांग्रेसी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच कहे जाने पर रिपब्लिक टीवी के एंकर अर्णब गोस्वामी भड़क गए। उन्होंने अय्यर को चैनल पर आकर उनसे डिबेट करने की चुनौती दी है। अर्णब ने कहा कि अय्यर लंबे समय से ही विवादित बयान देते रहे हैं लेकिन यह पहली बार है जब उन्होंने आम जनमानस के बीच यह स्वीकार किया है कि उन्होंने नीच शब्द का इस्तेमाल कर गलती की है। अर्णब ने मणिशंकर अय्यर के बॉडी लैंग्वेज पर भी ताना मारा है। अर्णब ने कहा कि जो शख्स एक चुनाव भी नहीं जीत सकता वह प्रधानमंत्री को नीच कह रहा है।

बता दें कि मणिशंकर अय्यर ने आज (गुरुवार, 07 दिसंबर को) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच कहा था। अय्यर ने पीएम मोदी के उस बयान पर प्रतिक्रिया देने के दौरान यह टिप्पणी की थी जिसमें पीएम मोदी ने कहा था कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बाबा अंबेडकर को नहीं जानते हैं, बाबा भोले को जानते हैं। दरअसल, दिल्ली में अंबेडकर प्रतिष्ठान द्वारा आयोजित एक भवन के उद्घाटन समारोह में पीएम ने जवाहर लाल नेहरू पर भी डा. भीमराव अंबेडकर के साथ पक्षपात करने और उनकी भूमिका को कम करके दिखाने का आरोप लगाया था।

संबंधित खबरें

इस पर जब पत्रकारों ने अय्यर से प्रतिक्रिया चाही तो उन्होंने अपनी बात में प्रधानमंत्री मोदी का नाम लिए बिना उन्हें नीच कहा। चुनावी माहौल में मौका पाते ही बीजेपी ने इस बयान को हाथों हाथ ले लिया और चौतरफा कांग्रेस और मणिशंकर अय्यर पर हमला बोल दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद इसे गुजराती अस्मिता से जोड़ते हुए कहा कि हां वो नीच जाति में पैदा हुए हैं मगर ऊंचे काम किए हैं।

अर्णब ने रिपब्लिक वर्ल्ड.कॉम पर एक आलेख में लिखा है कि भारत सेंट स्टीफन स्कूल नहीं है, जहां वो अपना क्लास पूरा कर रहे हैं। उन्होंने लिखा है कि भारत अब बदल चुका है। अर्णब ने लिखा है कि अय्यर जैसे लोग जो सिर्फ गांधी परिवार की चाटुकारिता करने और येन-केन प्रकारेण सुर्खियों में बने रहना चाहते हैं, वो कांग्रेसी मानसिकता को उजागर करने वाले उटपटांग बयान देते हैं। अर्णब ने कहा कि कांग्रेस में ऐसे लोग कभी रिटायर नहीं होते हैं बल्कि प्रमोशन पाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *