Before judgement in fodder scam, Lalu says- not in fear, so many times went Jail, Tejashwi Yadav – चारा घोटाले में फैसला आने से पहले बोले लालू- डर काहे का, कई बार जा चुके हैं जेल

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू यादव ने करोड़ों के चारा घोटाले के एक और मामले में रांची की सीबीआई कोर्ट से फैसला आने से पहले कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि न्यायालय से इंसाफ होगा। रांची पहुंचे लालू यादव ने ईटीवी से बात करते हुए कहा कि बीजेपी-एनडीए गठबंधन की सरकार सरकारी एजेंसियों के जरिए पिछले 20 सालों से कोल्हू के बैल की तरह पेर रही है। उन्होंने कहा कि न्यायालय पर उन्हें और उनके पूरे परिवार को भरोसा है, अदालत से उन्हें न्याय मिलेगा। बता दें कि यह मामला देवघर ट्रेजरी से 84 लाख रुपये की अवैध निकासी से जुड़ा है। पिछले कुछ महीनों से लगातार लालू यादव अदालत का चक्कर काटते रहे हैं।

जब उनसे पूछा गया कि क्या आपको जेल जाने से डर नहीं लगता है तो लालू ने कहा, “डर काहे का, हम तो कई बार जेल जा चुके हैं।” हालांकि, दोनों बेटों और पत्नी राबड़ी देवी को भी रेलवे होटल लीज घोटाले में नामित करने पर उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जानबूझकर और उनकी लोकप्रियता से घबराकर साजिश के तहत इस केस में फंसाया है।

बड़ी खबरें

उन्होंने कहा कि हम सामाजिक न्याय और धर्मनिरपेक्षता के सिपाही हैं इसलिए ये लोग घबराकर फंसाने का काम कर रहे हैं। लालू ने कहा कि लालू की लोकप्रियता को जब ये लोग कम नहीं कर पाए तो मुझे और मेरे परिवार को बदनाम करने की साजिश रची। उन्होंने कहा कि इसमें नीतीश कुमार की भी संलिप्तता है।

हालांकि, कहा जा रहा है फैसला सुनाने वाले जज छुट्टी पर जा रहे हैं, इसलिए 23 दिसंबर को फैसला नहीं आएगा। इस पर लालू यादव ने कहा कि कोर्ट का आदेश था कि 23 को फैसला आएगा इसलिए हम आए हैं। लालू ने 2जी और आदर्श घोटाले के बारे में बात करते हुए कहा कि जब सभी लोगों को न्यायालय से न्याय मिला तो हमें भी उम्मीद है कि न्याय मिलेगा। लालू यादव के साथ उनके छोटे बेटे और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी थे। उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर सीबीआई के पास सबूत है तो रेलवे होटल लीज मामले में चार्जशीट क्यों नहीं दाखिल हो रहा?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *