BJP MP Nana Patole resigns from party citing Farmer negligence from PM Narendra modi and devendra fadnavis to attend a rally with Congress vp Rahul Gandhi in ahmedabad during Gujarat Assembly Elections 2017 – नरेंद्र मोदी और देवेंद्र फडणवीस की सरकारों से नाराज बीजेपी सांसद ने दिया इस्तीफा, अहमदाबाद में राहुल गांधी के साथ करेंगे रैली

बीजेपी की सदस्यता और लोकसभा से इस्तीफा दे चुके नाना पटोले अहमदाबाद में 11 दिसंबर को राहुल गांधी की रैली में उनके साथ मंच साझा करेंगे। कांग्रेस के एक नेता ने शुक्रवार (8 दिसंबर) को यह जानकारी दी। कांग्रेस के महाराष्ट्र राज्य प्रभारी मोहन प्रकाश ने कहा कि वह शुक्रवार को पटोले से मिले और किसानों के लिए संघर्ष करने पर उन्हें बधाई दी। नाना पटोले ने शुक्रवार को दिल्ली में कहा कि बीजेपी नेतृत्व किसानों की समस्याओं को लेकर संवेदनशील नहीं है। नाना पटोले ने इससे तीन दिन पहले महाराष्ट्र के अकोला में बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा के साथ किसानों के मुद्दे पर प्रदर्शन किया गया था। इस दौरान यशवंत सिन्हा को गिरफ्तार भी किया गया था। इस वजह से महाराष्ट्र में बीजेपी को काफी किरकिरी भी झेलनी पड़ी थी। बाद में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस प्रदर्शनकारियों की सभी सात प्रमुख मांगों को मानने पर सहमत हुए थे, उसके बाद बुधवार को विरोध प्रदर्शन समाप्त हुआ था। नाना पटोले ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा , ‘मैंने किसानों का मुद्दा सुलझाने के लिए बड़ा इंतजार किया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ, आखिरकार मैं ने पार्टी छोड़ने का फैसला लिया है।’

संबंधित खबरें

भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीट से सांसद रहे नाना पटोले ने लोकसभा चुनाव में एनसीपी के कद्दावर नेता प्रफुल्ल पटेल को शिकस्त दी थी। उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस से कहा कि वह अभी कोई पार्टी ज्वाइन नहीं करने जा रहे हैं, लेकिन महाराष्ट्र कांग्रेस के चीफ अशोक चव्हाण ने उन्हें कांग्रेस में आने का ऑफर जरूर दिया है। उन्होंने कहा, ‘ये जरूरी नहीं है कि मैं कोई पार्टी ही ज्वाइन करूं, हो सकता है कि मैं अपने दम पर भी शुरूआत करूं।’ सूत्रों के मुताबिक उन्होंने हाल ही में अशोक चव्हाण से मुलाकात की थी इसके अलावा उनकी भेंट शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्घव ठाकरे से भी हुई थी।

नाना पटोले ने कहा कि उनका गुस्सा केन्द्र और राज्य सरकार की ओर था। नाना पटोले ने कहा, ‘पार्टी के किसी नेता ने किसानों की चिंताओं को लेकर बात करने के लिए मुझे नहीं बुलाया, यदि वे लोग यशवंत सिन्हा( 85 साल) को धरने पर बैठने के लिए मजबूर कर सकते हैं तो मैं कौन हूं।’ बता दें कि नाना पटोले पिछले कुछ महीनों से पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की नीतियों के मुखर आलोचक रहे हैं। कुछ महीने पहले उन्होंने कहा था कि जब एक बार उन्होंने पीएम मोदी को किसानों से जुड़ी समस्याएं बताईं थी तो पीएम मोदी उनपर गुस्सा हो गये थे। नाना पटोले के मुताबिक पीएम मोदी को सवाल लेना पसंद नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *