BJP MP Subramanyam Swami says- He have enough proof when Rahul Gandhi stated about his non Hindu religion – गैर हिन्दू विवाद: सुब्रमण्यम स्वामी बोले- मेरे पास हैं सबूत, कई मौकों पर राहुल ने दर्ज कराया ‘क्रिश्चन धर्म’

बीजेपी के राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी भी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गैर हिन्दू विवाद में कूद पड़े हैं। उन्होंने कहा है कि उनके पास ऐसे कई सबूत हैं, जब राहुल गांधी ने खुद को क्रिश्चन करार दिया है। टाइम्स नाऊ पर डिबेट में भाग लेते हुए स्वामी ने कहा कि राहुल गांधी जन्म से ही गैर हिन्दू हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अगर आप हिन्दू नहीं हैं और खुद को जबरन हिन्दू कहते हैं तो यह फ्रॉड है। उन्होंने कहा कि पढ़ाई के दौरान भी राहुल गांधी ने कई जगहों पर खुद को कैथोलिक क्रिशच्न के रूप में अपना धर्म दर्ज कराया है। स्वामी ने कहा कि संत कोलंबा स्कूल में वह कैथोलिक क्रिश्चन के रूप में रजिस्टर्ड हैं।

स्वामी ने इसके बाद सेंट स्टीफन कॉलेज का नाम लिया और कहा कि यहां भी राहुल का नाम एक कैथोलिक क्रिश्चन के रूप में दर्ज किया गया था। बतौर स्वामी राहुल ने यहां एक साल ही पढ़ाई की। इसके बाद उन्होंने फ्लोरिडा के छोटे से सेंट लॉरेन्स कॉलेज में दाखिला लिया। यहां भी उन्होंने खुद को गैर हिन्दू यानी क्रिश्चन कहा। स्वामी ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में भी गैर हिन्दू होने के आधार पर ही दाखिला लिया था।

संबंधित खबरें

बता दें कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के सोमनाथ मंदिर जाने पर विवाद खड़ा हो गया है। मंदिर के रजिस्टर में उन्हें गैर हिन्दू के तौर पर एंट्री कराई गई है। राहुल गांधी के साथ साथ राज्य सभा सांसद और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल की भी एंट्री गैर हिन्दू के तौर पर कराई गई है। मंदिर के सुरक्षा रजिस्टर में यह एंट्री कांग्रेस के मीडिया कॉर्डिनेटर मनोज त्यागी ने कराई है। बता दें कि मंदिर के नियमों के मुताबिक गैर हिन्दुओं को रजिस्टर में एंट्री करनी जरूरी होती है। हालांकि, देर शाम होते-होते कांग्रेस की तरफ से कहा गया कि राहुल गांधी जनेऊधारी हिन्दू हैं। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेन्स कर कहा कि राहुल गांधी ‘जनेऊधारी हिन्दू’ हैं। उन्होंने अपने पिता के अंतिम संस्कार में भी जनेऊ पहना था। सुरजेवाला ने गुजरात चुनाव में बहस का स्तर गिराने पर बीजेपी की कड़ी आलोचना भी की है। कांग्रेस प्रवक्ता ने दस्तावेज दिखाते हुए कहा कि राहुल गांधी ने विजिटर रजिस्टर में दस्तखत किए हैं कहीं और नहीं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधबार (29 नवंबर) को गुजरात के सोमनाथ मंदिर में पहुंचकर माथा टेका और जलाभिषेक किया। पिछले तीन महीने में राहुल गांधी ने 19वीं बार मंदिर में पूजा-अर्चना की है। इस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी उन पर सियासी हमला बोला है। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का नाम लिए बिना उन्होंने तंज कसा कि सोमनाथ मंदिर परनाना ने नहीं बनवाया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”आज सोमनाथ की पताका पूरे विश्व में फहरा रही है। आज जिन लोगों को सोमनाथ याद आ रहे हैं, इनसे पूछिए कि क्या तुम्हें इतिहास पता है? तुम्हारे परनाना, तुम्हारे पिता जी के नाना, तुम्हारी दादी मां के पिता जी, जो इस देश के पहले प्रधानमंत्री थे, जब सरदार पटेल सोमनाथ का उद्धार करवा रहे थे तब उनकी भौहें क्यों तन गईं थीं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *