Communal Tension in Sirsi, Uttar Kannada of Karnatka over RSS worker Murder -कर्नाटक में फिर साम्प्रदायिक तनाव, जामा मस्जिद में तोड़फोड़, पीछे की दुकान में लगाई आग

कर्नाटक के उत्तरी कन्नड़ जिले के सिरसी में दो समुदायों के बीच झड़प की खबर है। विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी) और अन्य हिन्दूवादी संगठनों के लोगों ने संघ कार्यकर्ता की हत्या पर आक्रोशित होकर विरोध-प्रदर्शन निकाला था लेकिन उनकी पुलिस से झड़प हो गई। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने स्थानीय जामा मस्जिद में तोड़फोड़ की और मस्जिद के पीछे दुकानों में आग लगा दी। स्थानीय टीवी चैनलों के मुताबिक उपद्रवियों ने बीच रास्ते में चल रहे बाइक सवार को उतार दिया और उसकी गाड़ी को आग के हवाले कर दिया।

इलाके में तनाव को देखते हुए बारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। बता दें कि संघ कार्यकर्ता परेश मेस्टा जो शहर के तुलसीनगर का निवासी था, कुछ दिनों से लापता था था लेकिन शुक्रवार (1 दिसंबर) को उसकी लाश शहर में झील के पीछे मिली थी। इससे हिन्दूवादी संगठनों के लोगों में गुस्सा है।

इधर, इस घटना से नाराज भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेताओं ने मंगलवार (12 दिसंबर) को राजभवन मार्च किया। गांधी मूर्ति से राजभवन मार्च करने वाले बीजेपी नेताओं ने राज्यपाल वैजूभाई वाला को युवा कार्यकर्ता परेश मेस्टा की हत्याकांड की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से कराने का निर्देश राज्य सरकार को देने के लिए एक ज्ञापन सौंपा। इस मार्च का अगुवाई सांसद शोभा करांडलजे ने किया था।

संबंधित खबरें

इधर, कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव ने आरोप लगाया है कि बीजेपी और संघ परिवार के लोग राज्य में अशांति और दंगा का माहौल पैदा करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि युवा कार्यकर्ता परेश मेस्टा की मौत के मामले में पुलिस जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *