in response to shashi tharoor big english word use amul creative ad is trending अंग्रेजी के भारी भरकम शब्दों के इस्तेमाल पर अमूल ने बनाया दिलचस्प विज्ञापन थरूर बोले बटरली ऑनर्ड

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर अक्सर अंग्रेजी के भारी-भरकम और जटिल शब्दों का इस्तेमाल करते रहते हैं। इसके लिए टि्वटर पर लोग उन्हें निशाना भी बनाते रहते हैं। थरूर पिछली बार ‘रोडोमोंटेड’ शब्द को लेकर सोशल साइट पर निशाने पर आए थे। इसका मतलब डींगें हांकना होता है। अमूल ने इसको लेकर एक कार्टून बनाया है जो लोगों के बीच चर्चा का विषय बनाया गया है। कंपनी ने अपने इसमें लिखा ‘थरूरॉरस एनीवन?’ खुद शशि थरूर भी इस विज्ञापन से प्रभावित हुए बगैर नहीं रह सके। उन्होंने ‘बटरली ऑनर्ड’ ट्वीट कर कार्टून की तारीफ की है। उनका यह जवाब भी लोगों को भा गया।

अमूल आमतौर पर सामयिक मसलों पर कटाक्ष करते हुए कार्टून बनाता रहता है। अमूल का नया कार्टून सामने आते ही लोग उसकी तारीफ करने लगे थे। लेकिन, थरूर की ओर से इस पर दी गई प्रतिक्रिया ने भी लोगों को प्रभावित किया। अमूल ने ट्वीट किया, ‘टॉपिकल: सांसद का रोडोमोंटेड जैसे बड़े-बड़े शब्द ट्वीट करने के प्रति लगाव!’ इसके साथ लगाए गए कार्टून पर ‘अमूल: मधुर स्वाद के लिए छोटा शब्द!’ इसके सोशल होते ही बड़ी तादाद में लोग प्रतिक्रिया देने लगे। लोग इसकी तारीफ करने लगे। इनमें शशि थरूर भी शामिल थे। योगेश जोशी ने लिखा, ‘बेहतरीन! स्पॉट ऑन!’ कुलवंत सिंह द्राल ने कैटल क्लास पर थरूर द्वारा दिए गए बयान को याद करते हुए ट्वीट किया, ‘कैटल क्लास उनका एक अन्य शब्द है। मवेशी ही दूध देते हैं और दूध भी केवल अमूल का!’

शशि थरूर के बेहतरीन जवाब पर भी कई लोगों ने प्रतिक्रिया दी। बहुत से लोगों ने उनकी खिंचाई भी की। वैभव भास्कर ने लिखा, ‘इतनी कठिन अंग्रेजी का प्रयोग मत किया करो साहब…एक ट्वीट में चार बार गूगल खोलना पड़ता है।’ सुंदर ने ट्वीट किया, ‘उस शिक्षा का क्या इस्तेमाल यदि इससे बेहतर तरीके से संवाद ही न हो सके और ऐसे शब्दों का प्रयोग सिर्फ पांडित्य दिखाने के लिए होता है।’ वहीं, सुदीप होरे ने ट्वीट किया, ‘कृपा करके क्या आप यह बता सकते हैं कि आप किस डिक्शनरी का इस्तेमाल करते हैं?’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *