Jignesh Mevani, Yuva Hunkar Rally 2018 NEWS UPDATES in Hindi – युवा हुंकार रैली: संसद मार्ग पर रैली कर रहे हैं जिग्नेश मेवानी, उमर खालिद ने कहा- रोहित वेमुला के लिए इंसाफ चाहिए

दिल्ली पुलिस की ओर से जंतर-मंतर पर रैली करने की इजाजत नहीं मिलने के बाद भी गुजरात के विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवानी हुंकार रैली कर रहे हैं। मेवानी जंतर-मंतर के करीब संसद मार्ग पर ही रैली कर रहे हैं, उन्हें उसके आगे नहीं जाने दिया जा रहा है। गुजरात के यह दलित नेता इस वक्त वहां मौजूद लोगों को संबोधित कर रहे हैं। मेवानी का कहना है कि वह चुने हुए प्रतिनिधि हैं, तो ऐसे में उन्हें अपनी बात कहने का और रैली करने का पूरा हक है। मेवानी ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया है कि सरकार उन्हें रैली नहीं करने देना चाहती। उन्होंने कहा कि वह शांतिपूर्ण और लोकतांत्रिक तरीकों से प्रदर्शन करना चाह रहे थे, लेकिन सरकार उन पर निशाना साध रही है। उमर खालिद ने कहा है कि वह रोहित वेमुला और चंद्रशेखर के लिए इंसाफ चाहते हैं। वहीं जंतर-मंतर और उसके आसपास के इलाकों पर किसी भी तरह की अप्रिय घटना से निपटने के उद्देश्य से भारी मात्रा में पुलिसबल की तैनाती की गई है।

संबंधित खबरें

यहां पढ़िए Jignesh Mevani, Yuva Hunkar Rally Live Updates-

– टाइम्स नाउ के मुताबिक जिग्नेश की इस हुंकार रैली में शामिल होने के लिए ज्यादा लोग नहीं पहुंचे। इस रैली में 200 से 300 समर्थकों ने ही अपनी उपस्थिति दर्ज की है। रैली के लिए लगाई गई ज्यादातर कुर्सियां खाली पाई गई हैं। जबकि मेवानी ने दावा किया था कि उनकी रैली में भारी संख्या में लोग शामिल होंगे।

– जेएनयू छात्रसंघ की उपाध्यक्ष रह चुकीं शहला रशीद ने कहा है कि अगर लोगों की संख्या में कमी आती है तो इसकी जिम्मेदार दिल्ली पुलिस होगी। मंगलवार को दिल्ली के पार्लियामेंट स्ट्रीट पर होने वाली मेवानी की रैली को दिल्ली पुलिस ने भले ही कैंसिल कर दिया है, लेकिन जिग्नेश और रैली का आयोजन करने वाले संगठन अभी भी अपनी बात पर अड़े हुए हैं। दिल्ली पुलिस ने नैशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल के आदेशों का हवाला देते हुए पार्लियामेंट स्ट्रीट पर होने वाली रैली को रद्द कर दिया है और कहा है कि जिग्नेश किसी अन्य इलाके में रैली करें।

– एनजीटी ने पिछले साल 5 अक्टूबर को जंतर मंतर रोड के पास किसी भी तरह का विरोध प्रदर्शन करने पर, धरना देने पर, रैली करने पर और भाषण देने पर रोक लगा दी थी। दिल्ली पुलिस ने एनजीटी के इसी आदेश का हवाला देते हुए सोमवार की रात को ट्वीट किया, ‘NGT के आदेशों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस द्वारा पार्लियामेंट स्ट्रीट पर रैली करने को लेकर इजाजत नहीं दी गई है। आयोजकों से अनुरोध है कि वे किसी अन्य इलाके में रैली करें।’

– डीसीपी के ट्विटर हैंडल से यह ट्वीट किया गया है। हालांकि आयोजकों ने दिल्ली पुलिस की बात मानने से साफ इनकार कर दिया है। जेएनयू छात्रसंघ की उपाध्यक्ष रह चुकीं और लेफ्ट नेता शहला रशीद ने डीसीपी के जवाब में ट्वीट कर कहा कि रैली तो वहीं की जाएगी।

– हुंकार रैली पर बढ़ते विवाद को देखते हुए दिल्ली में सुरक्षा के चौकस प्रबंध किए गए हैं। किसी भी तरह की अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए भारी मात्रा में पुलिसबल की तैनाती की गई है। इसके अलावा दिल्ली में जिगनेश मेवानी के विरोध में पोस्टर भी लगाए गए हैं। पोस्टर्स के माध्यम से उन्हें ‘भगोड़ा’ कहा जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *