kumar vishvas praised sonia gandhi on twitter after people asked are you keeping more options in hand कुमार विश्वास ने की सोनिया गांधी की तारीफ लोग बोले ज्यादा विकल्प रखना चाह रहे हैं

सोनिया गांधी ने दो दशक बाद कांग्रेस की बागडोर आखिरकार अपने बेटे राहुल गांधी को सौंप दी है। इसके बाद सोशल साइटों पर कई लोग उनके नेतृत्व की तारीफ करने लगे। इनमें आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास भी शामिल हैं। उन्होंने टि्वटर पर सोनिया गांधी की तारीफ करते हुए लिखा कि भारतीय राजनीति उनकी आभारी रहेगी। इसके बाद प्रतिक्रिया देने वालों की बाढ़ सी आ गई। लोग बोलने लगे कि लगता है कविवर ‘आप’ से निकाले जाने के बाद ज्यादा से ज्यादा विकल्प अपने पास रखना चाह रहे हैं।

राहुल गांधी को शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव जीतने का प्रमाणपत्र दिया गया। इसके साथ ही पार्टी अध्यक्ष के तौर पर सोनिया गांधी के दो दशक के दौर का अंत हो गया। इस राजनीतिक घटनाक्रम पर कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, ‘आदरणीय सोनिया जी, दो दशकों तक कांग्रेस के अध्यक्ष और राजनेता के रूप में आपने जिस शाब्दिक और व्यावहारिक गरिमा का पालन किया उसके लिए भारतीय राजनीति आपकी आभारी है। आपके उत्तम स्वास्थ्य की शुभकामनाएं।’ उनका ट्वीट सामने आते ही प्रतिक्रिया देने का सिलसिला शुरू हो गया। दिनेश ने ट्वीट किया, ‘कविवर आप पार्टी से निकलने के बाद ज्यादा से ज्यादा विकल्प अपने पास रखना चाह रहे हैं।’ अरविंद शर्मा ने पूछा, ‘मौत का सौदागर और जहर की खेती…जैसे शब्द क्या आप ही उनको लिख कर देते थे?’ सुरिंदर सैनी ने ट्वीट किया, ‘व्यावहारिक गरिमा! क्यों फिरकी ले रहे हो साहब। अगर मौत का सौदागर कहना गरिमा है तो आपके संस्कार भी यही हैं।’ अभिनव पांडे ने लिखा, ‘कौन सी गरिमा? भारतीय राजनीति में परिवारवाद और भ्रष्टाचार का जहर घोल दिया। किस बात का आभार।’

बड़ी खबरें

टि्वटर पर लोगों ने कुमार विश्वास के ट्वीट पर सकारात्मक प्रतिक्रियाएं भी दी हैं। चेतन जठोल ने लिखा, ‘यही तो अच्छे राजनेता की पहचान है कि वह विपक्ष के लिए भी आदर और सम्मान से बात करते हैं।’ अक्षय कुमार ने ट्वीट किया, ‘गाली-गलौच के इस राजनीतिक दौर में इसी स्वस्थ राजनीतिक पहल की जरूरत है। इसीलिए अप अलग हैं। विरोधियों की अच्छाई को खुले मंच से बताते हैं।’ मालूम हो कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के समय आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के नेताओं के बीच तीखी बयानबाजी हुई थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के जुबानी हमले तो कुछ ज्यादा ही तल्ख थे। कुमार विश्वास भी तीखी टिप्पणी करने में पीछे नहीं थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *