Mani Shankar Aiyar suspended from Congress after neech remark on PM Narendra Modi – मणिशंकर अय्यर पार्टी से सस्पेंड, पीएम मोदी को नीच कहने पर कांग्रेस ने की बड़ी कार्रवाई

पीएम नरेंद्र मोदी को नीच कहने पर मणिशंकर अय्यर न सिर्फ विरोधियों के निशाने पर आ गए हैं बल्कि कांग्रेस ने भी उन पर बड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की है। पार्टी ने उन्हें प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। इससे पहले पार्टी ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया था लेकिन देर रात होते-होते पार्टी ने बड़ी कार्रवाई कर दी। माना जा रहा है कि गुजरात चुनावों में डैमेज कंट्रोल करने के मकसद से पार्टी ने ये कार्रवाई की है। बता दें कि मणिशंकर अय्यर ने आज (गुरुवार, 07 दिसंबर को) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच कहा था। अय्यर ने पीएम मोदी के उस बयान पर प्रतिक्रिया देने के दौरान यह टिप्पणी की थी जिसमें पीएम मोदी ने कहा था कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बाबा अंबेडकर को नहीं जानते हैं, बाबा भोले को जानते हैं।

दरअसल, दिल्ली में अंबेडकर प्रतिष्ठान द्वारा आयोजित एक भवन के उद्घाटन समारोह में पीएम ने जवाहर लाल नेहरू पर भी डा. भीमराव अंबेडकर के साथ पक्षपात करने और उनकी भूमिका को कम करके दिखाने का आरोप लगाया था। इस पर जब पत्रकारों ने अय्यर से प्रतिक्रिया चाही तो उन्होंने अपनी बात में प्रधानमंत्री मोदी का नाम लिए बिना उन्हें नीच कहा। चुनावी माहौल में मौका पाते ही बीजेपी ने इस बयान को हाथों हाथ ले लिया और चौतरफा कांग्रेस और मणिशंकर अय्यर पर हमला बोल दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद इसे गुजराती अस्मिता से जोड़ते हुए कहा कि हां वो नीच जाति में पैदा हुए हैं मगर ऊंचे काम किए हैं।

हालांकि, बाद में राहुल गांधी से लताड़ मिलने पर मणिशंकर अय्यर ने माफी मांग ली। उन्होंने अपनी सफाई में दलील दी कि हिंदी उनकी भाषा नहीं है। अंग्रेजी में Low शब्द सोचकर हिंदी में नीच शब्द का इस्तेमाल किया था। मणिशंकर के मुताबिक, अगर हिंदी में लो का मतलब ‘लो बॉर्न’ (नीची जाति में जन्म लेने वाला) होता है तो वह माफी मांगते हैं। अय्यर ने यह भी कहा कि उन्होंने काफी वक्त में हिंदी सीखी है और इसी नासमझी में एक बार उन्होंने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के लिए नालायक शब्द का इस्तेमाल कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *