PM Narendra Modi has presented US first daughter Ivanka Trump with a wooden box of Sadeli craft – इवांका ट्रंप को तोहफा देने के ल‍िए गुजरात की कला का खास नमूना ले गए थे पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब भी किसी विदेशी नेता, मेहमान या दुनियाभर की मशहूर हस्तियों से मिलते हैं तो वो अक्सर भारतीय संस्कृति या परंपरा से जुड़े कोई न कोई गिफ्ट उन्हें जरूर देते हैं। वो इस मामले में काफी खुली सोच रखते हैं। मंगलवार (28 नवंबर) को भी जब वो अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी और सलाहकार इवांका ट्रम्प से मिले तो उन्होंने लकड़ी का एक ऐसा गिफ्ट दिया जो गुजरात की कला का खास नमूना था। पीएम मोदी ने इवांका को सडेली क्राफ्ट का एक वुडेन बॉक्स उपहार में दिया।

स्किल्ड क्राफ्ट के नमूने के तौर पर दिया गया यह वुडेन बॉक्स गुजरात की काष्ठ कला का बेहतरीन उदाहरण है। सूरत के आसपास लोग इसे बनाकर अच्छी कमाई करते हैं। ज्यामितीय आकार का यह बक्सा मर्करी का एक रूप है जिसे वुडेन बॉक्स को सुंदर बनाने के लिए इस्तेमाल में लाया गया है। इस तरह की काष्ठ कलाकृति का इस्तेमाल वहां दरवाजों की खूबसूरती बढ़ाने, खिड़कियों को सजाने, घर की फर्नीचर को आकर्षक बनाने या ज्वेलरी बॉक्स और फोटो फ्रेम बनाने के लिए किया जाता है।

संबंधित खबरें

बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति की बड़ी बेटी इवांका ट्रम्प और पीएम मोदी ने संयुक्त रूप से हैदराबाद में आयोजित ग्लोबल इंटरप्रिन्योरशिप समिट यानी वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन का उद्घाटन किया। इस मौके पर इवांका ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है और कहा है कि बचपन में चाय बेचकर किसी सख्स के लिए प्रधानमंत्री बन जाना एक बड़ी उपलबब्धि है। उन्होंने कहा कि यह साबित करता है कि भारत में परिवर्तनकारी बदलाव की बयार बह रही है। मंगलवार (28 नवंबर) को हैदराबाद में ग्लोबल इंटरप्रिन्योरशिप समिट यानी वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं। इवांका ने इस बात पर भी आश्चर्य जताया कि इस सम्मेलन में 1500 महिला उद्दमी भाग ले रही हैं।

इससे पहले समिट को संबोधित करते हुए इवांका ने भारत को आजादी के 70 साल पूरे होने पर भी बधाई दी और कहा कि पौराणिक शहर हैदराबाद में अपने को पाकर वह गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। इवांका ने कहा कि हैदराबाद टेक्नोलॉजी की दुनिया में लंबी लकीर खींच चुका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *