Prakash javadekar suggest Satyapal singh not to make comments on Darwin evolution theory – डार्विनवाद पर विवाद: प्रकाश जावड़ेकर बोले- मैंने सत्यपाल सिंह को समझाया है, ऐसी बातें न करें

मशहूर वैज्ञानिक चार्ल्स डार्विन के क्रमिक विकास के सिद्धांत को गलत बताने को लेकर केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह की काफी आलोचना की जा रही है। इस मामले पर मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि उन्होंने सत्यपाल सिंह को समझाया है कि इस तरह की बातें ना करें। मंगलवार को जावड़ेकर ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘मैंने उन्हें समझाया है कि इस तरह की बातें वह ना करें, क्योंकि यह हमारा क्षेत्र नहीं है। वैज्ञानिक अपना काम अच्छे से कर रहे हैं। वह देश को आगे ले जा रहे हैं। हमें इस तरह के कमेंट्स नहीं करना चाहिए।’

दरअसल, मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद में आयोजित ऑल इंडिया वैदिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए डार्विन के सिद्धांत को गलत बताया था। उन्होंने कहा था, ‘डार्विन की ‘थ्योरी ऑफ इवोल्यूशन’ वैज्ञानिक तौर पर गलत है। इसे स्कूल और कॉलेजों के पाठ्यक्रम से हटा दिया जाना चाहिए। जबसे इंसान धरती पर है वह इंसान ही है। हमारे किसी भी पूर्वज ने ना तो लिखित तौर पर ना ही मौखिक तौर पर कहीं यह बताया है कि उन्होंने किसी कपि (बंदर) को इंसान बनते देखा हो।’ सत्यपाल ने कहा कि किसी ने भी किसी बंदर को इंसान बनते नहीं देखा।

संबंधित खबरें

उनके इस बयान के बाद से ही सोशल मीडिया से लेकर हर जगह उनकी आलोचना की जा रही है। वैज्ञानिकों से लेकर राजनेता और बॉलीवुड जगत की हस्तियां भी सत्यपाल की आलोचना कर रही हैं। वैज्ञानिक समुदाय ने सत्यपाल की टिप्पणी पर अफसोस जताया और इसे अतार्किक व अनुचित करार दिया। वैज्ञानिकों ने डार्विन के क्रमिक विकास के सिद्धांत को सही ठहराया। वैज्ञानिकों ने कहा कि चिंपांजी और मनुष्य का डीएनए काफी मिलता-जुलता है। एक्टर फरहान अख्तर ने भी सत्यपाल का मजाक उड़ाते हुए ट्वीट किया और कहा, ‘ब्रेकिंग: डार्विन के सिद्धांत के खिलाफ बंदरों ने धरना देना शुरू कर दिया है। उन लोगों ने इंसानों की उत्पत्ति में किसी भी तरह से अपना हाथ होने से इनकार किया है।’ टीवी इंडस्ट्री की मशहूर एक्ट्रेस श्रुति सेठ ने भी ट्विटर पर केंद्रीय मंत्री का मजाक उड़ाया। श्रुति ने लिखा, ‘हां हमारे पूर्वजों ने बंदरों को इंसान बनते नहीं देखा लेकिन उन्होंने यह भी नहीं देखा कि भगवान ने मानव को बनाया। तो अब? शिक्षा गई तेल लेने।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *