अंपायर ने बोलर से फिंकवाईं एक ओवर में 7 गेंदें, हुई शिकायत – Bowler made to bowl 7 deliveries in Bangladesh Premier League

बांग्लादेश प्रीमियर लीग में बड़ी ही चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां अंपायर ने गेंदबाज के कहने के बाद भी उससे एक गेंद एक्ट्रा फिकवाई। मैच के बाद अब सिलहट सिक्सर्स ने लीग में इसकी आधिकारिक शिकायत की है। दरअसल मंगलवार (28 नंवबर) को रंगपुर राइडर्स और सिलहट सिक्सर्स के बीच खेले गए मैच के दौरान ये घटना घटी। मैदानी अंपायर महफुजर रहमान ने तेज गेंदबाज कमरुल इस्लाम रब्बी से 16वें ओवर में एक गेंद एक्ट्रा फेंकने को कहा। ऐसा तब हुआ जब गेंदबाज ने कहा कि वह ओवर की छह गेंद डाल चुका है।

टीम के दूसरे गेंदबाज नबिल समद ने बताया, ‘हमारे गेंदबाज से एक गेंद एक्ट्रा कराई गई। रब्बी ने अंपायर को इसकी जानकारी भी दी लेकिन उन्होंने अपना निर्णय नहीं बदला। मुझे नहीं पता की अंपायर ने तीसरे अंपायर की सहायता क्यों नहीं ली। हालांकि घटना के वक्त मैं वहां उपस्थित नहीं था।’

बड़ी खबरें

घटना के बाद सिलहट टीम के मीडिया मैनेजर तमजीदुल इस्लाम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ‘टीम के लिए बड़ी हार साबित हुई। इससे हमारी टीम अब प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो गई। लीग फ्रेंचाईजी ने घटना को देखते हुए शिकायत दर्ज कर ली है। हमने शिकायत दर्ज कराई है। हमारी टीम के कप्तान ने भी मैच के दौरान फील्ड पर इस गलती पर सवाल भी उठाए थे। तीसरे अंपायर द्वारा मैच का रिव्यू लेने के बाद उन्होंने भी हमें शिकायत दर्ज कराने को कहा।’

वहीं मैच हारने के बाद सिलहट टीम के कप्तान नासिर हुसैन ने बताया, ‘विरोधी टीम के हम 10-15 रन कम कर चुके थे। फ्लेचर एक प्रमुख खिलाड़ी हैं जबकि बाबर आजम एक अच्छे खिलाड़ी हैं और ब्रेसन ने हमारे लिए अच्छा प्रदर्शन किया। बाबर ने टीम के लिए 54 रन बनाए जबकि सब्बीर रहमान ने 44 रन बनाकर टीम को सम्मानजक स्कोर तक पहुंचाया। नासिर हुसैन ने चार ओवर में तीन विकेट लेकर टीम को कमजोर कर दिया था।’ जबकि रंगपुर राइडर्स के लिए ब्रेंडन मैक्कुलम ने 43 रन, जियाउर रहमान 36 रन बनाए। राइडर्स ने दो गेंदें शेष रहते 174 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *