जसप्रीत बुमराह से मिलने आए उनके दादाजी, मिलने नहीं दिया गया, हुए लापता – indian Cricketer Jaspreet Bumrah grandfather goes missing

टीम इंडिया के स्टार क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह के दादा संतोष सिंह बुमराह (84) के लापता होने का मामला सामने आया है। खबर है कि वह उत्तराखंड से अहमदाबाद पोते से मिलने के लिए पहुंचे थे जो अभी तक वापस घर नहीं पहुंचे। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक,  आठ दिसंबर को जसप्रीत से मिलने पहुंचे संतोष सिंह को कथित तौर पर पोते से मिलने या बात नहीं करने दी गई। संतोष सिंह के अभतक घर वापस नहीं लौटने पर पुलिस ने मामले में उनके गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज कर ली है साथ ही उन्हें खोजने के लिए एक टीम का गठन कर दिया गया है।

संतोष सिंह बुमराह की बेटी राजिंदर कौर बुमराह ने बताया कि उनके पिता बीते शुक्रवार से लापता हैं। वह अभी तक घर नहीं पहुंचे हैं। जसप्रीत बुमराह की मां दलजीत कौर बुमराह को इसकी जानकारी दे दी गई है। वहीं पुलिस में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार संतोष सिंह ने शुक्रवार करीब 1:30 दलजीत से पोते से मिलने के लिए दलजीत से गुहार लगाई थी। लेकिन उन्हें पोते से मिलने या बात करने की अनुमति नहीं दी गई।

बड़ी खबरें

मामले की जांच कर रहे पुलिस इंस्पेक्टर एमएम जडेजा ने बताया कि फोटो के आधार पर संतोष की खोजबीन शुरू कर दी गई है। गौरतलब है कि राजिंदर कौर ने मीडिया को बताया कि उनके पिता जसप्रीत से एक बार मिलना चाहते थे। इससे पहले भी उन्होंने कई बार पोते से मिलने की कोशिश की लेकिन अनुमति नहीं मिली।

गौरतलब है कि इन दिनों संतोष सिंह बुमराह आर्थिक स्थिति बहुत खराब है। वह उधमसिंह नगर के किच्छा में एक किराए के मकान में रहते हैं। लेकिन जसप्रीत बुमराह के दादा का ये हाल जानने से पहले आपको 15 साल पीछे जाना पड़ेगा। जब शानों शौकत इस परिवार में शामिल था। संतोष सिंह बुमराह के बेटे और जसप्रीत बुमराह के पिता जसवीर बुमराह गुजरात के अहमदाबाद में कई फैक्ट्रियों के मालिक थे। वेबसाइट इनाडुइंडिया डॉट काम के मुताबिक अहमदाबाद में इनकी तीन फैक्ट्रियां थी। लेकिन 2001 में जसप्रीत बुमराह के पिता जसवीर बुमराह की मौत हो गई। इसके बाद शुरू हुआ इस परिवार के बर्बादियों का सिलसिला।

तब बुमराह के दादा ने भी बताया था कि बेटे की मौत के बाद उनका आर्थिक साम्राज्य संकट से घिर गया। बैंकों का कर्ज चुकाने के लिए तीनों की तीनों फैक्ट्रियां बेचनी पड़ गई। हालात लगातार बिगड़ते गये संतोख बुमराह को अपना सारा कारोबार बेचकर उत्तराखंड आना पड़ गया। इस दौरान कुछ कारणों की वजह से जसप्रीत बुमराह की मां और जसप्रीत अपने दादा से अलग रहने लगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *