धर्मशाला वन डे पर सोशल मस्ती: जब नाम में MS हो तो महेंद्र सिंह धोनी बनें, मणि शंकर अय्यर नहीं – India vs sri lanka dharamshala one day ms dhoni brilliant innings people troll congress leader mani shankar aiyar ms aiyar

धर्मशाला में भारत-श्रीलंका के मैच में भले ही मेहमान टीम ने टीम इंडिया को शिकस्त दे दी है, लेकिन आज पूर्व कैप्टन एमएस धोनी ने अपनी बल्लेबाजी से सबका जीत लिया। साथ ही उन्होंने ये भी मैसेज दे दिया कि इस उम्र में भी वह टीम के लिए क्यों जरूरी हैं। बता दें कि रविवार (10 दिसंबर) के मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने शानदार बैटिंग की। धोनी ने अहम समय पर 87 गेंदों में 10 चौके और दो छक्कों की मदद से 65 रनों की पारी खेलते हुए अपनी टीम को 100 का आंकड़ा पार कराया, साथ ही उसे वनडे इतिहास में सबसे न्यूनतम स्कोर पर आउट होने से भी बचा लिया। एम एस धोनी की इस शानदार बल्लेबाजी पर सोशल मीडिया में लोग कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर पर मजे लेने लगे। ट्विटर पर फेमस सर रविन्द्र जड़ेजा ने लिखा, ‘जब जिंदगी आपको MS बनने का मौका देती है तो धोनी बनिए, मणिशंकर अय्यर नहीं। पंकज देवनानी नाम के यूजर ने लिखा, ‘मैंने धोनी की बैटिंग देखी, इसके बाद मेरे पिता जी ने पूछा इससे क्या सीख मिलती है, मैंने कहा जब आपको जिंदगी एमएस देती है तो धोनी बनें, मणिशंकर अय्यर नहीं और अगर जिंदगी अय्यर देती है तो श्रेयस बनिए, अय्यर नहीं।

एक यूजर ने लिखा, एमएस सुब्बा लक्ष्मी, एमएस धोनी, एमएस माइक्रोसाफ्ट और हाय ये एमएस मणि शंकर। एक यूजर ने दोनों के बीच समानताएं ढूंढ़ी और लिखा,’ दोनों लास्ट ओवर में बैटिंग करते हैं लेकिन धोनी जहां अपने टीम के लिए स्कोर करते हैं, वहीं मणिशंकर अय्यर विरोधी टीम के लिए स्कोर करते हैं।’ ट्विटर पर धोनी के इस बैटिंग की लगातार तारीफ हो रही है, एक यूजर ने लिखा है कि धोनी ने इतने धबाव में भी फिफ्टी बनाई और उसके रिटायर होने कहते हैं।’

बता दें कि मणिशंकर अय्यर ने कुछ ही दिन पहले पीएम नरेंद्र मोदी के लिए अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया था और उनके लिए ‘नीच’ शब्द का इस्तेमाल किया था। इससे पहले 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी को चाय बेचने वाला कहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *