सचिन को क्यों नहीं दिया गया था आउट, अजमल आज भी परेशान – Pakistan’s Saeed Ajmal still flummoxed why Sachin Tendulkar was not given out

पांच साल से ज्यादा बीत गए लेकिन पाकिस्तान के शीर्ष अॉफ स्पिनर सईद अजमल को आज तक समझ में नहीं आया कि विश्व कप 2011 के सेमीफाइनल में अंपायरों ने सचिन तेंदुलकर को उनकी गेंद पर नाट आउट कैसे करार दिया था । 40 बरस के अजमल ने बुधवार को क्रिकेट को अलविदा कह दिया। मोहाली में पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल में तेंदुलकर ने 85 रन बनाए थे । अजमल ने उन्हें आउट किया था। अजमल ने कहा ,‘‘ मैं आश्वस्त था कि वह पगबाधा आउट थे, लेकिन आज तक मुझे समझ में नहीं आया कि अंपायरों ने उन्हें आउट क्यों नहीं दिया ।’’ उन्होंने स्वीकार किया कि भारतीय बल्लेबाजों को गेंदबाजी करना आसान नहीं था। उन्होंने कहा ,‘‘ तेंदुलकर एंड कंपनी को गेंदबाजी करना हमेशा कौशल और क्षमता का परीक्षण होता था।’

30 मार्च 2011 को खेले गए इस मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के सामने जीत के लिए 261 रनों का लक्ष्य रखा था। सचिन ने 115 गेंदों का सामना करते हुए 85 रन बनाए थे, जिसमें 11 चौके शामिल थे। उनके अलावा टीम इंडिया को कोई भी बल्लेबाज 40 का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाया था। पाकिस्तान भारत को आज तक कभी विश्व कप मुकाबलों में हरा नहीं पाया है। पारी की शुरुआत कामरान अकमल और मोहम्मद हाफिज ने की।

दोनों ने 44 रन जोड़ ही लिए थे कि जहीर खान ने अकमल को आउट कर दिया। इसके बाद 70 के स्कोर पर हाफिज भी आउट हो गए। मिस्बाह-उल-हक ने पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन वह भी जहीर का शिकार बने। पाकिस्तान की पूरी टीम 49.5 ओवर में 231 रनों पर ढेर हो गई और भारत 29 रनों से मैच जीत गया। सचिन तेंदुलकर को प्लेयर अॉफ द मैच के खिताब से नवाजा गया था। बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच राजनीतिक कारणों से क्रिकेट सीरीज नहीं खेली जाती। दोनों टीमें आईसीसी के मुकाबलों में ही आमने-सामने होती हैं।

देखें वीडियो :

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *