17 ओवर में दो रन और पूरी टीम आउट, पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने मारा ताना – women U-19 team all-out for two runs

महिला अंडर 19 मैच में नगालैंड के लचर प्रदर्शन के बाद बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर शुक्रवार (24 नवंबर) को बहुत नाराज हुए। उन्होंने कहा कि लोढ़ा समिति के सभी सुधार उचित नहीं है। बीसीसीआई के अंडर 19 महिला एकदिवसीय सुपर लीग मैच में नगालैंड की टीम केरल के खिलाफ 17 ओवर में सिर्फ दो ही रन बना सकी जिसमें उसकी नौ बल्लेबाज खाता खोलने में भी नाकाम रही। उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त लोढ़ा समिति ने बीसीसीआई में एक राज्य एक वोट की सिफारिश की थी जिसके कारण 41 बार के रणजी चैंपियन मुंबई ने वोटिंग अधिकार गंवा दिया जबकि सभी पूर्वोत्तर राज्यों को वोटिंग अधिकार मिला।

ठाकुर ने सुझाव दिया कि वोटिंग अधिकार की जगह इन राज्यों को बुनियादी ढांचे और खेल के विकास की जरूरत है। सुधारवादी कदमों के कारण बोर्ड का अध्यक्ष पद गंवाने वाले ठाकुर ने ट्वीट किया, ‘क्रिकेट के ढांचागत विकास के बिना प्रत्येक राज्य को पूर्ण वोटिंग का अधिकार देने से खेल को नुकसान होगा। पूर्वोत्तर में क्रिकेट को इस तरह के शर्मसार तरीके की नहीं बल्कि निखारने की जरूरत है। #लोढासुधार @ बीसीसीआई।’

एक समय भारतीय क्रिकेट में सत्ता का केंद्र रहा मुंबई ने प्रशासकों की समिति द्वारा तैयार नए बीसीसीआई संविधान के तहत अपना स्थाई वोटिंग अधिकार गंवा दिया है। मणिपुर, मिजोरम, नगालैंड, अरूणाचल प्रदेश, सिक्किम सहित सभी पूर्वोत्तर राज्यों को पूर्ण सदस्यता और वोटिंग का अधिकार दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *