2014 में लगाई गई डबल सेंचुरी है रोहित शर्मा के दिल के बेहद करीब-Indian Cricketer Rohit Sharm’s favourite double century

भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ बुधवार को नाबाद 208 रनों की पारी खेली जो उनका वनडे इतिहास में तीसरा दोहरा शतक है। रोहित ने 2014 में भी श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक लगाया था। रोहित का कहना है कि श्रीलंका के खिलाफ लगाया गया वो दोहरा शतक उनके दिल के काफी करीब है। रोहित ने 2014 में कोलकाता में खेले गए मैच में 173 गेंदों में 264 रनों की पारी खेली थी जो वनडे इतिहास का सर्वोच्च स्कोर भी है। रोहित ने अपना पहला दोहरा शतक 2013 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया था।

रोहित ने मैच के बाद कहा, “वो 264 रन मेरे दिल के काफी करीब है। काफी लोग मुझसे पूछते रहते हैं कि मेरा पसंदीदा दोहरा शतक कौन सा है। आस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया गया शतक श्रृंखला के लिए निर्णायक था, श्रीलंका के खिलाफ इससे पहले जो दोहरा शतक मैंने लगाया वो तीन महीने बाद चोट से वापसी करते हुए लगाया था और यह दोहरा शतक मैंने तब लगाया है जब हमें सीरीज में बने रहने की जरूरत थी।

बड़ी खबरें

मैच के बारे में रोहित ने कहा, “हमारे लिए यह दिन अच्छा था। मैच जीतना मेरे लिए और टीम दोनों के लिए अच्छा है। धर्मशाला में हारने के बाद हमारे लिए वापसी करना बेहद जरूरी था और इसे ही वापसी कहते हैं। रोहित ने साथ ही अर्धशतकीय पारी खेलने वाले शिखर धवन और श्रेयस अय्यर के साथ पदार्पण कर रहे वॉशिंगटन सुंदर की तारीफ भी की।
रोहित ने कहा, “शिखर ने हमें अच्छी शुरुआत दी। श्रेयस अय्यर को देखकर लगा नहीं है कि वह अपना दूसरा वनडे खेल रहे हैं। हमने जो कुल स्कोर बनाया वहां तक पहुंच कर अच्छा लगा क्योंकि अंत में कुछ ओस भी यहां थी।

मुंबई के इस बल्लेबाज ने कहा, “पहला मैच खेल रहे सुंदर के लिए यह अच्छी परिस्थति नहीं थी, लेकिन इसी तरह वह सीखेंगे। उनके पास प्रतिभा है और उन्होंने इसे आईपीएल में साबित भी किया है। टीम प्रबंधन के नाते हम उनके जैसे खिलाड़ियों का साथ देना चाहते हैं और उन पर किसी तरह का वेवजह दबाव नहीं बनाना चाहते। मुझे विश्वास है कि उन्होंने इससे काफी कुछ सीखा होगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *