Former Pakistani player Ramiz Raza praises Rahul Dravid and advises PCB to follow BCCI – इस पूर्व दिग्गज क्रिकेटर ने की दिल खोलकर तारीफ बाेले भारत से कुछ सीखे पाकिस्तान

पाकिस्‍तान के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी रमीज राजा ने भारत के पूर्व दिग्‍गज क्रिकेटर राहुल द्रविड़ की दिल खोलकर तारीफ की है। उन्‍होंने कहा कि जब युवा क्रिकेटरों को द्रविड़ जैसा टीचर और मेंटर मिलेंगे तो वह उनसे बहुत कुछ सीख सकते हैं। इसके साथ ही वह बेहतर खिलाड़ी भी बन सकते हैं। उन्‍होंने पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) सीख लेने की भी नसीहत दी है। राहुल द्रविड़ फिलहाल अंडर-19 क्रिकेट टीम के कोच हैं।

यह कोई पहला मौका नहीं है जब रमीज राजा ने द्रविड़ की तारीफ की है। पूर्व में भी वह इस महान बल्‍लेबाज की प्रशंसा कर चुके हैं। पाकिस्‍तान के पूर्व क्रिकेटर ने ताजा बयान अंडर-19 विश्‍वकप के संदर्भ में दिया है। उन्‍होंने कहा कि पीसीबी को भारतीय क्रिकेट बोर्ड की तरह ही राहुल द्रविड़ की तरह प्रसिद्ध पूर्व क्रिकेटरों को अंडर-19 की टीम से जोड़ना चाहिए। उन्‍होंने कहा, ‘मेरी समझ में पीसीबी को राष्‍ट्रीय जूनियर टीम से सम्‍मानित पूर्व क्रिकेटरों को जोड़ना चाहिए, जैसा भारत ने राहुल द्रविड़ के मामले में किया है।’ राहुल द्रविड़ अंडर-19 भारतीय क्रिकेट टीम के कोच हैं। अंडर-19 विश्‍वकप इसी महीने से न्‍यूजीलैंड में शुरू होने जा रहा है। पकिस्‍तानी टीम भी उसकी तैयारियों में जुटी है।

संबंधित खबरें

पूर्व पाकिस्‍तानी क्रिकेटर ने कहा कि युवा प्रतिभाओं को तलाश कर उसे भविष्‍य के लिए तैयार करना टीम की उपलब्धि से कहीं ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण है। रमीज राजा ने कहा, ‘मेरी समझ में जीतना इतना महत्‍वपूर्ण नहीं है, जितना व्‍यक्तिगत प्रतिभाओं को तलाश कर उसे प्रशिक्षित करना है। भारत को युवाओं के लिए रोल मॉडल रहे राहुल द्रविड़ जैसे प्‍लेयरों की मौजूदगी का फायदा मिलेगा। जब युवाओं को द्रविड़ जैसे टीचर और मेंटर मिलते हैं तो वे और ज्‍यादा सीखते हैं एवं बेहतरीन व्‍यक्ति एवं खिलाड़ी बनते हैं। पाकिस्‍तान को भी इस तरीके से सोचना चाहिए, क्‍योंकि अंडर-16 और अंडर-19 स्‍तर पर प्रतिभाओं की पहचान करना भविष्‍य के लिए बेहतर और बहुत महत्‍वपूर्ण है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *