Former Sri Lankan leg-spinner Upul Chandana now runs a sports shop- इटरनैशनल मैच में टीम के लिए शानदार प्रदर्शन करने वाला यह क्रिकेटर अब चला रहा है स्पोर्ट्स की दुकान

पूरी दुनिया में क्रिकेट खिलाड़ियों की पॉपुलैरिटी दूसरे खेलों के मुकाबले काफी ज्यादा होती है। इस खेल में अगर कोई खिलाड़ी सफल रहता है तो उसे पहचान के साथ-साथ पैसा कमाने का भी ढेरों अवसर मिलता है। लेकिन कई बार कुछ खिलाड़ी अपने प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रख पाते हैं। जिस वजह से वह क्रिकेट से दूर होते चले जाते हैं और किसी और काम के जरिए ही पैसा कमाने लगते हैं।ऐसा ही कुछ इन दिनों कर रहे हैं श्रीलंकाई क्रिकेटर उपुल चंदना। एक समय उपुल चंदना श्रीलंका के बेहतरीन क्रिकेटरों में से एक माने जाते थे। उन्होंने देश की तरफ से कई मैच भी खेले हैं। चंदना लेग स्पिन और बल्लेबाजी करने के साथ-साथ शानदार फील्डिंग करने के लिए भी जाने जाते थे। लेकिन आज वो क्रिकेट और अन्य खेलों का सामान बेचने का काम कर रहे हैं। उन्होंने साल 2009 में ‘चंदना स्पोर्ट्स शॉप’ नाम की एक दुकान की शुरुआत की थी।

बड़ी खबरें

upul chanda pic क्रिकेटर उपुल चंदन। (फोटो सोर्स- क्रिकइंफो)

एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया था कि मेरी शुरू से ही ऐसी चाहत थी, लेकिन पैसे नहीं होने की वजह से मैं कभी शॉप खोल नहीं पाया। लेकिन 2009 में जब मेरे पास कुछ पैसे जमा हुए तो मैंने इस पर काम करना बेहतर समझा। चंदना अपनी दुकान में खुद ही बैठते हैं और लोगों को सामान बेचते हैं। चंदना ने बताया कि इंडियन प्रीमियर लीग से मिले 60 हजार यूएस डॉलर से उन्होंने यह शॉप खोला। चंदना के मुताबिक बहुत सारे क्रिकेट क्लब होने के बावजूद यहां खेल का सारा समान नहीं मिल पाता था।

यही वजह थी कि मैंने इस शॉप की शुरुआत की। अपने बचपन को याद करते हुए चंदना ने बताया कि हमारे घर के आसपास कोई स्पोर्ट्स की दुकान नहीं थी। हम महीने भर एक ही गेंद के साथ खेला करते थे, उस समय मेरे दिमाग में ये बात आ गई थी कि एक दिन मैं स्पोर्ट्स शॉप जरूर शुरू करुंगा। चंदना ने श्रीलंका के लिए 147 वनडे मैचों में 151 विकेट चटकाए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *