Ind vs SA 1st Test south african cricketer De Villiers changed whole game in one over said batting coach Dale Benkenstein – दक्षिण अफ्रीका के कोच ने कहा, इस खिलाड़ी ने एक ओवर में बदल दिया पूरा गेम

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच इस वक्त तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जा रही है। इस सीरीज का पहला मैच 5 जनवरी से शुरू हो गया है। पहले दिन बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम को टीम इंडिया ने ज्यादा देर मैदान पर टिकने नहीं दिया और 286 रनों पर ही ऑल आउट कर दिया। वहीं बाद में बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत भी काफी खराब रही और दिन का खेल खत्म होने तक टीम ने तीन विकेट खोकर 28 रन बनाए। पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम ने बेहद ही धीमी शुरुआत की थी। एक वक्त ऐसा था जब लग रहा था कि अफ्रीकन क्रिकेटर्स 150 का आंकड़ा भी नहीं छू पाएंगे क्योंकि आठ ओवर्स तक टीम ने 3 विकेट खोकर महज 15 रन ही बनाए थे, लेकिन एबी डिविलियर्स के मैदान में आने के साथ ही बाजी पलट गई। डिविलियर्स ने 9वें ओवर में आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए टीम की वापसी करा दी। उन्होंने गेंदबाज भुवनेश्वर की ओर से डाले गए नौवें ओवर में 4 गेंदों पर चौका जड़ दिया।

बड़ी खबरें

अफ्रीका के बैटिंग कोच डेल बेंकेन्सटीन (Dale Benkenstein) ने डिविलियर्स की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने एक ओवर में पूरा खेल बदल दिया। डेल ने कहा, ‘अच्छी बात तो यह थी कि हमारे फोन्स हमसे ले लिए गए थे, नहीं तो मैं ऊबर लेते हुए होटल लौटने वाला था। गेंदबाजी काफी अच्छी की जा रही थी और मैं बैठे-बैठे सोच रहा था कि क्या हम एक रन भी ले पाएंगे या नहीं। एबी डिविलियर्स और कप्तान डुप्लेसिस की शानदार पार्टनरशिप ने खेल में दक्षिण अफ्रीका की वापसी करा दी और बाकी क्रिकेटर्स के मन में एक बार फिर विश्वास पैदा हो गया। मुझे लगता है कि वह एक ओवर था जिसमें डिविलियर्स ने पूरा खेल बदल कर रख दिया। उन्होंने गेंदबाजों को सोचने पर मजबूर कर दिया।’

बता दें कि पहले टेस्ट मैच के पहले दिन शुक्रवार को दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 286 रनों पर ऑल आउट हो गई। भारतीय गेंदबाजों ने लगातार विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को बड़ी पारियां नहीं खेलने दीं। कप्तान फाफ डुप्लेसिस ने 62 रनों की पारी खेली तो वहीं डिविलियर्स 65 के स्कोर पर आउट हुए। शुरुआती झटके खा चुकी मेजबान टीम को डिविलियर्स (65) और डुप्लेसिस (62) ने बचाया और चौथे विकेट के लिए 114 रनों की साझेदारी की। इस जोड़ी ने लंच तक और कोई झटका नहीं लगने दिया। दिन के दूसरे सत्र में मेजबान टीम ने चार विकेट खोए जिसमें डिविलियर्स और डुप्लेसिस के विकेट भी शामिल थे। डिविलियर्स को अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे जसप्रीत बुमराह ने बोल्ड किया। वहीं डुप्लेसिस दूसरे सत्र में अर्धशतक पूरा कर हार्दिक पांड्या की गेंद पर रिद्धिमान साहा के हाथों लपके गए। डिविलियर्स ने 84 गेंदें खेलीं और 11 चौके लगाए। प्लेसिस ने अपनी पारी में 104 गेंदों का सामना किया और 12 चौके लगाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *