IND vs SL: Indian cricket team enjoy the bonfire after losing the first ODI against Sri Lanka – IND vs SL: पहला वनडे हारने के बाद टीम इंडिया ने इस तरह भुलाया ग़म

श्रीलंका की क्रिकेट टीम ने धर्मशाला के हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) स्टेडियम में खेले गए पहले वनडे मैच में रविवार (10 दिसंबर) को भारत को एकतरफा मुकाबले में सात विकेट से हरा दिया। इसी के साथ उसने तीन वनडे मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। श्रीलंका ने कप्तान थिसारा परेरा के नेतृत्व में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी और सभी की उम्मीदों से उलट एक-एक कर भारत के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को ताश के पत्तों की तरह गिरा दिया। मेजबान टीम 38.2 ओवर में 112 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस स्कोर में 65 रन अकेले महेंद्र सिंह धोनी के थे। इस आसान से लक्ष्य को श्रीलंका ने 20.4 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। बुरी तरह हार के बाद टीम के कुछ सदस्‍यों ने हिमाचल के मौसम का आनंद लेने की सोची। भारतीय टीम के कुछ खिलाड़ी सर्द रात में बोनफायर का मजा उठाते देखे गए। तस्‍वीरें सोशल मीडिया पर सामने आई हैं। इनमें धोनी, शिखर धवन, हार्दिक पंड्या, यजुवेंद्र चहल, मनीष पांडे, श्रेयस अय्यर व युवा खिलाड़ी दिख रहे हैं।

बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम के एक के बाद एक विकेट गिरते चले गए। 10 ओवर तक आते-आते भारत ने अपने तीन विकेट खो दिए और स्कोरबोर्ड पर सिर्फ 11 रन थे। यह भारत का 2001 के बाद पहले 10 ओवर में सबसे कम स्कोर है। भारत का विकेट गिरने का सिलसिला रुका नहीं और वह 16 रनों पर ही अपने पांच विकेट गंवा बैठी। यह वनडे इतिहास में पहली बार है जब किसी टीम ने 16 रनों पर पांच विकेट खो दिए हों। इससे पहले भी भारत ने 17 रनों पर पांच विकेट 1983 विश्व कप में जिम्बाब्वे के खिलाफ खोए थे।

एक समय भारत के लिए 50 का आंकड़ा पार करना भी मुश्किल लग रहा था। उसने अपने सात विकेट 29 रनों के कुल स्कोर पर खो दिए थे, लेकिन संकटमोचक धौनी ने अहम समय पर 87 गेंदों में 10 चौके और दो छक्कों की मदद से 65 रनों की पारी खेलते हुए बेहद शर्मनाक स्थिति में जाने से किसी तरह बचा लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *