India vs South Africa, Test Series: Virender Sehwag feels Virat Kohli’s team need to fight hard to make a comeback – IND vs SA: टेस्‍ट सीरीज पर वीरेंद्र सहवाग की खरी-खरी, बोले- कमबैक का सिर्फ 30 पर्सेंट चांस

पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में 72 रन की हार के बाद भारतीय टीम की अब वापसी करने की संभावना ‘लगभग 30 प्रतिशत’ है। सहवाग ने इंडिया टीवी से कहा, ‘‘अभी तो ऐसा लग रहा है कि वापसी की संभावना केवल 30 प्रतिशत है। यहां से अब काफी कड़ा होने जा रहा है। भारतीय टीम प्रबंधन को यह भी देखना चाहिए कि सेंचुरियन की परिस्थितियों में क्या रविचंद्रन अश्विन की टीम में जगह बनती है या नहीं।’’ सहवाग का कहना है कि भारत को छह विशेषज्ञ बल्लेबाजों और चार गेंदबाजों के साथ उतरना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘भारत अंजिक्य रहाणे के रूप में अतिरिक्त बल्लेबाज के साथ उतर सकता है। उन्हें चार विशेषज्ञ गेंदबाजों के साथ उतरने की कोशिश करनी चाहिए। अगर भारत जीतना चाहता है तो विराट और रोहित को अहम भूमिका निभानी होगी।’’

दक्षिण अफ्रीका के ब्लोमफोंटेन में अपने पदार्पण मैच में शतक जड़ने वाले सहवाग ने बल्लेबाजों को आफ स्टंप से बाहर की अधिकतर गेंदों को छोड़ने की सलाह दी। उन्होंने कहा, ‘‘बल्लेबाजों को मेरी यही सलाह है कि वे आफ स्टंप से बाहर की गेंदों से छेड़खानी नहीं करें। जितना संभव हो सीधे बल्ले से खेले। आपके शाट स्ट्रेट ड्राइव या फ्लिक होने चाहिए। किसी की शार्ट पिच गेंद पर चोट सहने के लिये भी तैयार रहें। शार्ट पिच गेंदों को रोकने के बजाय उन्हें अपने शरीर पर झेलें।’’

संबंधित खबरें

सहवाग ने कहा, ‘‘दक्षिण अफ्रीका में गेंद उछाल लेती है जिसका मतलब कि किसी बल्लेबाज के बोल्ड होने की संभावना कम है। इसलिए बल्लेबाजों को सकारात्मक सोच के साथ खेलना होगा और कम से कम तीन रन प्रति ओवर की दर से रन बनाने होंगे।’’

मेजबान टीम ने पहले टेस्ट मैच में वर्नोन फिलेंडर, डेल स्टेन, मोर्ने मोर्केल और कागिसो रबादा जैसे चार बेहतरीन तेज गेंदबाजों को अंतिम एकादश में जगह दी थी और इन्हीं चार ने भारतीय टीम के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त कर दिया था। भारतीय टीम पहली पारी में 209 और दूसरी पारी में 135 रनों पर ही ढेर हो गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *