India vs Sri Lanka Test Series 2017, Ind vs SL BCCI posted Video On Twitter to and also asked the cricket fans About Kohli And Shastri Conversation – मैदान से बाहर बैठे रवि शास्त्री से विराट कोहली की इशारेबाजी, बीसीसीआाई ने वीडियो ट्वीट कर पूछा मतलब

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने ट्विटर पर भारतीय कप्तान विराट और कोच रवि शास्त्री का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में विराट और कोच रवि शास्त्री के बीच इशारों-इशारों में पारी डिक्लेयर करने को लेकर बात हो रही है। अब बीसीसीआई ने लोगों से विराट और शास्त्री के बीच होने वाली इन इशारों का मतलब पूछा है। बता दें कि भारत-श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच ड्रॉ रहा। भारत इस मुकाबले में जीत से सिर्फ 3 ही विकेट दूर था। हालांकि दिन के काफी ओवर शेष बचे थे मगर समय निकलने और खराब रोशन के कारण मैच को समाप्त घोषित कर दिया। चौथी पारी के दौरान श्रीलंकाई बल्लेबाजों ने भी वक्त खराब करने की पूरी कोशिश की। इसके चलते अंपायर्स ने उन्हें चेताया भी मगर अंगुली बाद में भारतीय कप्तान विराट कोहली पर भी उठी। क्रिकेट पंडितों ने दलील दी कि अगर विराट कोहली अपने शतक का लोभ ना करते हुए पारी जल्द घोषित कर देते तो भारतीय टीम मैच जीत सकती थी।

बड़ी खबरें

इस वीडियो के साथ बीसीआईआई ने एक कैप्शन भी लिखा है जिसमें उन्होंने खेल प्रेमियों से दोनों के बीच ‘साइन इन लैंग्वेज’ में होने वाली चर्चा को लेकर सवाल किया है। दरअसल, ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान जब विराट कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे तो कोहली ने रवि शास्त्री से इशारों में कुछ कहा। इस पर अभी तक क्रिकेट पंडितों ने तरह-तरह के दलीलें दीं हैं। कुछ का कहना है कि कोच रवि शास्त्री ड्रेसिंग रूम से विराट कोहली को जल्द पारी घोषित करने की सलाह दे रहे थे? तो वहीं कुछ ने माना कि वो कोहली को शतक पूरा कर पारी घोषित करने के लिए कह रहे थे।

बता दें कि उस समय कोहली 86 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे और अपने अर्धशतक से केवल 14 रन दूर थे। क्रिकेट पंडितों की माने तो अगर कोहली अपने शतक के बारे में नहीं सोचते और टीम को जल्द ही घोषित कर देते तो शायद भारत ये मैच आसानी से जीत सकता था। क्योंकि चौथी पारी में श्रीलंका के बल्लेबाजों के लिए 200 रन बनाना आसान नहीं था। खैर कोहली और रवि शास्त्री के बीच हुए इशारेबाजी को लेकर फैंस अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं जाहिर की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *