Indian cricketer Yusuf Pathan tweet press release statement after ban by BCCI- बैन पर भावुक यूसुफ पठान बोले- कुछ ऐसा नहीं करूंगा जिससे मातृभूमि के सम्मान को ठेस पहुंचे

भारतीय टीम से बाहर चल रहे ऑलराउंडर खिलाड़ी युसूफ पठान पर डोप टेस्ट में फेल होने की वजह से पांच महीने का बैन लगाया गया है। यह बैन बीसीसीआई ने उन पर पिछले साल 15 अगस्त को लगाया गया था, जिसके बाद से वह क्रिकेट से दूर हैं। यह बैन 14 जनवरी 2018 तक युसूफ पठान पर जारी रहेगा। बीसीसीआई ने डोपिंग को लेकर खिलाड़ियों को किसी भी तरह की छूट ना देने की पॉलिसी बनाई हुई है। पठान पर डोपिंग नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगने के बाद से उनका आईपीएल में खेलना भी मुश्किल नजर आ रहा है। हालांकि, आईपीएल के लिए खिलाड़ियों की नीलामी 27-28 जनवरी को होनी है और तब तक पठान पर से बैन हटाया जा चुका होगा। यहां बड़ा सवाल यह है कि क्या कोई फ्रेंचाइजी इस मामले के सामने आने के बाद पठान पर दांव लगाना पसंद करेगी। इस मामले पर पठान ने ट्विट कर एक स्टेटमेंट जारी किया है। उन्होंने पहले तो बीसीसीआई को अपना केस सामने रखने के लिए धन्यवाद कहा, इसके बाद उन्होंने अपने बयान में कहा कि उस समय वह एक सीरप का सेवन कर रहे थे।

संबंधित खबरें

yusuf pathan मुंबई इंडियंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेले गए रोमांचक मुकाबले में युसूफ पठान ने महज 37 गेंदों में ही शतक जड़ दिया था।(फोटो सोर्स- क्रिकइंफो)

पठान ने कहा कि सीरप टीम के डॉक्टर की अनुमति के बाद ही लिया गया था। गले के इन्फेक्शन की वजह से उन्हें उन दिनों काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। जिसके बाद डॉक्टर के निर्देशानुसार उन्होंने सीरप का इस्तेमाल किया।  सीरीप के अंदर कुछ नशीले पदार्थ होते हैं। पठान ने कहा कि मैं कभी कुछ ऐसा करने की कोशिश नहीं करूंगा जिससे मातृभूमि के सम्मान को ठेस पहुंचे या बड़ौदा की टीम की बदनामी हो। पठान ने अपनी गलती मान ली, जिसके बाद बीसीसीआई ने भी उन पर केवल पांच महीने का ही बैन लगाना उचित समझा।

पठान की बात जानने के बाद बीसीसीआई ने कहा कि पठान ने जिस पदार्थ का इस्तेमाल किया है वह सीरप में आमतौर पर पाया जाता है। उन्होंने कहा कि पठान की बात से वह पूरी तरह से सहमत है। पिछले साल बीसीसीआई के कहने पर ही सिलेक्टर्स ने युसूफ को बड़ौदा के रणजी टीम में नहीं शामिल किया था। आईपीएल में कोलकाता को अपने दम पर कई मैच जीताने वाले पठान को वहां भी रिटेन नहीं किया गया है। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि खिलाड़ियों के नीलामी के दौरान युसूफ पर कौन सी फ्रेंचाइजी भरोसा जताती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *