Ranji Trophy final: Rishabh Pant becomes the youngest captain, Sachin Tendulkar – रणजी ट्रॉफी: ऋषभ पंत ने तोड़ा सचिन तेंदुलकर का 23 साल पुराना रिकॉर्ड, सिर्फ 20 साल की उम्र में बनाया इतिहास

रणजी ट्रॉफी-2017 में दिल्ली और विदर्भ के बीच फाइनल मुकाबला खेला जा रहा है, जिसमें दिल्ली की ओर से खेलने वाले ऋषभ पंत ने सचिन तेदुलकर का 23 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है। ऋषभ रणजी में सबसे कम उम्र के कप्तान बन गए हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम था। विश्व के महानतम बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने 1995 में महज 21 साल और 337 दिन की उम्र में मुंबई के लिए कप्तानी की थी। वहीं ऋषभ 20 साल 86 दिन में ही इस उपलब्धि को हासिल कर गए।

बता दें कि ऋषभ पंत ने अंडर-12 टूर्नामेंट में 3 शानदार शतक जड़ प्‍लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब हासिल किया था। इसके बाद जल्‍द ही उन्‍हें दिल्‍ली कैंट के एयरफोर्स स्‍कूल में दाखिला मिल गया। फिर ऋ‍षभ ने पीछे मुछ़कर नहीं देखा। अंडर-19 वर्ल्‍ड कप 2016 में नेपाल के खिलाफ 18 गेंदों में हॉफ सेंचुरी जड़कर नया रिकॉर्ड बना दिया था।

संबंधित खबरें

इसी टूर्नामेंट में पंत ने नामीबिया के खिलाफ शतक जड़कर टीम इंडिया को सेमीफाइनल में पहुंचाया। उसी दिन इंडियन प्रीम‍ियर लीग में पंत को दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स ने 1.9 करोड़ रुपए में खरीदा। बेहद आक्रामक अंदाज में बल्‍लेबाजी करने वाले ऋषभ 2016-17 क्रिकेट सत्र में झारखंड के खिलाफ 48 गेंदों में शतक जड़कर तहलका मचा दिया था। उन्‍होंने रणजी ट्रॉफी में महाराष्‍ट्र के खिलाफ तिहरा शतक भी जड़ा था।

Rishabh-pant

पंत ने 20 प्रथम श्रेणी मैचों की 28 पारियों में 1502 रन बनाए हैं, इसमें 4 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं। इसके अलावा इस विकेटकीपर-बल्लेबाज ने 29 आईपीएल मैचों में 3 फिफ्टी के साथ 667 रन बनाए। ऋषभ भारत की ओर से 2 टी20 मैच भी खेल चुके हैं, जिसमें वह महज 43 ही रन बना सके।

ये खिलाड़ी रहे रणजी में सबसे युवा कप्तान:

ऋषभ पंत – 20 साल 86 दिन (दिल्ली)

सचिन तेंदुलकर – 21 साल 337 दिन (मुंबई)

रोहित मोटवानी – 23 साल 47 दिन (महाराष्ट्र)

पिनाल शाह – 23 साल 69 दिन (बडौदा)

विजय मर्चेंट – 23 साल 143 दिन (मुंबई)

अंबर रॉय – 23 साल 255 दिन (बंगाल)

रॉबिन उथप्पा – 24 साल 61 दिन (कर्नाटक)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *