shahid afridi told his motive to ask an indian supporter to straighten her national flag – शाहिद अफरीदी ने बताई वजह- क्‍यों सीधा करवाया था भारत का तिरंगा

दिग्गज पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी के भारत और पाकिस्तान में लाखों फैन हैं। लेकिन हाल ही में स्विट्जरलैंड में एक क्रिकेट इवेंट के दौरान उन्होंने कुछ ऐसा किया कि सरहद के दोनों ओर के लोग उनकी सद्भावना के मुरीद हो गए। दरअसल स्विट्जरलैंड में हो रहे सैंट मैरित्ज आइस क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान अफरीदी अपने समर्थकों के साथ तस्वीर खिंचा रहे थे। इस दौरान उनके साथ फोटो खिंचा रहे एक भारतीय समर्थक से उन्होंने अपना राष्ट्रीय ध्वज सीधा करने के लिए कहा। इस बात को लेकर अफरीदी की सोशल माीडिया पर खूब तारीफ हुई।

अफरीदी ने पत्रकारों से बातचीत में ऐसा करने की वजह भी बताई है। उन्होंने कहा कि हमें हर देश के राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करना चाहिए और इसीलिए मैंने उसे अपना राष्ट्रीय ध्वज सही तरीके से पकड़ने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि मैं यह भी चाहता था कि हमारी तस्वीर अच्छी आए। इसके अलावा इस दौरान उन्होंने भारत-पाकिस्तान क्रिकेट संबंधों के भविष्य के बारे में भी बात की। उन्होंने बताया कि दो पड़ोसी देशों की कूटनीतिक समस्याएं उनके खिलाड़ियों के बीच दोस्ती को थोड़ा प्रभावित करती हैं। उन्होंने बताया कि दोनों देशों के खिलाड़ी चाहते हैं कि वह दोनों राष्ट्रों के आपसी संबंधों की बेहतरी के लिए खेलें। अफरीदी ने कहा कि हम शांति के दूत हैं और दुनिया भर में प्यार और शांति फैलाना चाहते हैं।

शाहिद अफरीदी ने हाल ही में एकदिवसीय श्रृंखला में पाकिस्तान टीम के न्यूजीलैंड के हाथों 5-0 से मिली हार पर भी बात की। उन्होंने इसके लिए तैयारियों में कमी को जिम्मेदार बताया। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड जाने से पहले पाकिस्तान की टीम ने सिर्फ एक दिन अभ्यास किया था। ऐसे में जब आपको पता हो कि आप कठिन हालातों में एक मजबूत टीम के खिलाफ खेलने जा रहे हैं तो आपको ज्यादा तैयारी की जरूरत होती है। बता दें कि बर्फ पर खेले जा रहे सैंट मैरित्ज आइस क्रिकेट टूर्नामेंट में अफरीदी के अलावा शोएब अख्तर, वीरेंद्र सहवाग, जहीर खान, ग्रीम स्मिथ, एंड्रयू साइमंड्स, लसिथ मलिंगा और महेला जयवर्धने ने भी हिस्सा लिया है।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *