When Australian Player Dennis Lillee played aluminium bat against England in 1979- जब एल्युमुनियम का बना बैट लेकर बल्लेबाजी करने उतरा था यह क्रिकेटर

क्रिकेट में बल्लेबाजों के लिए बैट हमेशा से काफी खास रहा है। बिना बैट के क्रिकेट खेलने की कल्पना भी नहीं की जा सकती। आजकल के समय में पहले के मुकाबले काफी अलग और नए तरीके के बैट आ गए हैं। हर खिलाड़ी अपने सहुलियत के हिसाब से बैट बनवाता है। आज हम आपको एक ऐसे क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे हैं जो एक बार मैदान पर एल्युमुनियम का बना बैट लेकर खेलने उतर गया था। दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज डेनिस लिली एक बार इंग्लैंड के खिलाफ एल्युमुनियम का बना बैट लेकर मैदान पर खेलने उतर गए थे। उनकी इस हरकत ने मैदान पर मौजूद सभी को चौंका दिया। डेनिस लिली एक गेंदबाज के तौर पर जाने जाते थे। वह बल्लेबाजी करने के लिए सबसे लास्ट 9वें नंबर पर आया करते थे। जब ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड के साथ साल 1979 में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेल रही थी तो पहले टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज इंग्लैंड के गेंदबाजों के सामने बेबस नजर आ रहे थे। यही वजह थी कि ऑस्ट्रेलिया महज 232 के स्कोर पर अपने 8 विकेट गंवा दिए थे।

इसके बाद अगले दिन लिली एल्युमिनियम का बैट लेकर खेलने मैदान पर आए। एल्युमिनियम का यह बैट लिली के दोस्त ग्रेम मोनेगन की कंपनी ने बनाया था। वह इस बल्ले के साथ ही खेलना चाहते थे, कुछ देर खेलने के बाद इंग्लैंड के गेंदबाजों ने अंपायर से शिकायत कर दी कि धातु का बैट लेदर की गेंद को खराब कर रहा है।

फिर अंपायर ने लिली को लकड़ी का बैट उपयोग करने के लिए कहा। लेकिन लिली ने बैट बदलने से इंकार कर दिया और अपनी बात पर अड़ गए। इसके बाद इंग्लैंड के खिलाड़ियों के साथ लिली की बहस भी हो गई। काफी देर बहस होने के बाद लिली लकड़ी के बैट से खेलने के लिए राजी हुए और मैच एक बार फिर शुरू किया गया। इस घटना के बाद यह खबर काफी दिनों तक सुर्खियों में रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *