when pakistani batsman test saurav ganguly patience on field- VIDEO:जानबूझकर देरी कर रहा था पाक क्रिकेटर, धोनी के साथ खड़े गांगुली ने हड़काया- टाइम नोट कर ले

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली अपने आक्रमक तेवर की वजह से जाने जाते थे। गांगुली ने बतौर कप्तान भारतीय टीम में एक नई जान डालने का काम किया था। गागुंली की कप्तानी में भारतीय टीम ने कई उपलब्धियां हासिल की है। गांगुली मैदान पर विरोधी खिलाड़ियों पर हावी होने का कोई मौका नहीं छोड़ते थे। 2003 में गांगुली की कप्तानी में ही भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप के फाइनल तक का सफर तय किया था। ये बात अलग है कि फाइनल में उसे ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। 2005 में भारत और पाकिस्तान के बीच वनडे सीरीज खेला जा रहा था। उस दौरान भारतीय टीम के कप्तान सौरव गांगुली और पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद यूसुफ के बीच मैदान पर ही किसी बात को लेकर कहा-सुनी होने लगी। दरअसल, पाकिस्तानी टीम उस समय बल्लेबाजी कर रही थी। पाकिस्तान की तरफ से बल्लेबाजी करने के लिए मोहम्मद यूसुफ क्रीज पर मौजूद थे।

Mohammad Yousuf मोहम्मद यूसुफ (फोटो सोर्स – क्रिकइंफो)

पाकिस्तानी टीम बल्लेबाजी करने के दौरान काफी समय ले रही थी। मोहम्मद यूसुफ ने पहले तो ड्रिंक्स के लिए टाइम ब्रेक लिया और उसके तुरंत बाद कोहनी में चोट लगने पर फिजियो को मैदान में बुला लिया। गांगुली काफी देर तक ये नजारा देखते रहे, लेकिन जब बात उनके बर्दाशत से बाहर चली गई तो उन्होंने यूसुफ से कहा, ”तुझे जितना आराम करना है कर ले। मैं तेरी बात नहीं कर रहा हूं, मैं ये नहीं कह रहा कि तू जानबूझकर कुछ कर रहा है। तू बस रेस्ट कर और अपना टाइम नोट कर ले बस”।

दरअसल, इनिंग्स के निर्धारित टाइम ओवर में भारत को अपने पचास ओवर फेंकने थे। अगर वो टाइम ओवर से ज्यादा का समय लेती तो टीम के कप्तान यानी गांगुली को फाइन भरना पड़ जाता। यही वजह थी कि गांगुली युसूफ को मैदान पर यह बात समझाने लगे। 8 मार्च से 17 अप्रेल तक पाकिस्तान की टीम टेस्ट और वनडे सीरीज खेलने भारत आई थी। जहां टेस्ट सीरीज ड्रॉ रहा तो वनडे में पाकिस्तान को जीत मिली।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *