when Virender Sehwag and rahul dravid made record partnership sehwag Hit 254 Against Pakistan- जब राहुल द्रविड के साथ मिलकर सहवाग ने बनाया था पाकिस्तानी गेंदबाजों का ‘भूत’

भारतीय टीम के पूर्व धाकड़ ओपनर वीरेंद्र सहवाग जब क्रिकेटर खेलते तो फैंस एक मिनट के लिए भी मैच मिस नहीं करना चाहते थे। इसकी वजह उनकी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी मानी जाती थी। सहवाग पहली गेंद से ही गेंदबाजों पर हावी होना पसंद करते थे। टी-20, वनडे और टेस्ट कहने को तो यह तीन अलग-अलग फॉर्मेट के खेल हैं लेकिन सहवाग जब खेलते थे तो वह हर फॉर्मेट में एक तरह से ही खेलते थे। यही वजह है कि क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में उनके नाम कई रिकॉर्ड दर्ज है। आज हम आपको सहवाग की एक ऐसी ही पारी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें सहवाग ने पाकिस्तानी गेंदबाजों की जमकर धुनाई की थी। दरअसल, 2007 में भारतीय टीम पाकिस्तान टेस्ट मैच खेलने गई थी। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 679 जैसा विशाल स्कोर खड़ा किया। जिसके बाद लग रहा था कि यह मैच पाकिस्तान आसानी से जीत जाएगी। इस मैच में पाकिस्तान के बल्लेबाज मोहम्मद यूसुफ, शाहिद अफरीदी और कामरान अकमल ने शतकीय पारी खेली थी। इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे वीरेंद्र सहवाग और राहुल द्रविड़। दोनों ने पहले विकेट के लिए 410 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी कर सभी को चौंका दिया।

मैदान पर उतरते ही सहवाग ने पाकिस्तानी गेंदबाजों की जमकर धुलाई करनी शुरू कर दी। इस पारी में सहवाग ने 247 गेदों में 254 रन बनाए, जबकि द्रविड़ 233 गेंदों में 147 रन बनाने में कामयाब रहे। पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हो या फास्ट। सभी ने सहवाग को आउट करने की भरपूर कोशिश की। लेकिन वो ऐसा करने में कामयाब नहीं हो सके। सहवाग लगातार गेंदबाजों पर प्रहार करते रहे। लेकिन 410 के स्कोर पर सहवाग नावेद-उल-हुसैन की गेंद पर 254 रन बनाकर कैच आउट हो गए।

हालांकि अगर टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ी साझेदारी की बात करें तो यह रिकॉर्ड श्रीलंका के कुमार संगाकारा और महेला जयवर्धने के नाम है, जिन्होंने 2006 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ कोलंबो में 624 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी बनाई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *