कजाकिस्तान के राजनयिक ने यूएन को अंतरराष्ट्रीय दिवाली दिवस मनाने का दिया सुझाव – Kazakhstan Diplomat Proposes to UN for Celebrate International Diwali Day

कजाकिस्तान के एक वरिष्ठ राजनयिक ने सुझाव दिया है कि संयुक्त राष्ट्र को दिवाली मनाने के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवाली दिवस मनाना चाहिए। उनका कहना है कि इस पर्व में वही मूल्य निहित हैं जिनको संयुक्त राष्ट्र मानता है। कजाकिस्तान के स्थाई प्रतिनिधि कैरात उमारोव ने सोमवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मान्यता दिलाने की सफलता के बाद अब भारत को दिवाली को भी इसी तरह मान्यता दिलाने के प्रयास करने चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा होना दिवाली पर्व को अमर कर देगा जो संयुक्त राष्ट्र के बुराई पर जीत हासिल करने के विचारों को प्रतिबिंबित करता है।

पूर्व उप विदेश मंत्री व भारत में कजाकिस्तान के राजदूत रह चुके उमारोव ने दिवाली फाउंडेशन के ‘पॉवर ऑफ वन’ समारोह को संबोधित करने के दौरान यह बात कही और फाउंडेशन की तरफ से छह सेवारत और पूर्व संयुक्त राष्ट्र रजनयिकों व अंतर्राष्ट्रीय प्रशासनिक अधिकारियों को पुरस्कार दिया। अधिकारियों को यह पुरस्कार शांतिपूर्ण और सुरक्षित विश्व बनाने के लिए उनके समर्पण और परिवर्तन लाने के प्रयासों के लिए दिया गया।

संबंधित खबरें

‘पॉवर ऑफ वन’ पुरस्कार लेबनान के स्थाई प्रतिनिधि नवाफ सलाम, ब्रिटेन के स्थाई प्रतिनिधि मैथ्यू रायरक्रॉफ्ट, सहायक महासचिव, संयुक्त राष्ट्र महिला की उप कार्यकारी निदेशक व पूर्व भारतीय राजनयिक लक्ष्मी पुरी, मिस्र के पूर्व अपर महासचिव माजेद अब्देल अजीज, मोल्दोवा के महासभा मामलों के पूर्व निदेशक आयन बोतनारू और यूक्रेन के पूर्व स्थाई प्रतिनिधि युरिए सेरेगेव को दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *