टॉप बीजेपी नेताओं पर हमले के लिए ‘जैश’ ने बनाया स्पेशल स्क्वॉड, केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री भी निशाने पर – Jaish-e-Mohammed setting up special squad to target BJP top leaders sad Intelligence agencies

आतंकी मौलाना मसूद अजहर का संगठन जैश-ए-मोहम्मद भारत के कुछ टॉप नेताओं, केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्रियों को निशाना बनाना चाहता है। इंटेलीजेंस एजेंसी को मिली जानकारी के अनुसार इस मिशन को अंजाम देने के लिए आतंकियों के एक विशेष दस्ते का गठन किया गया है। खबर के अनुसार पिछले सप्ताह खुफिया एजेंसी ने उन सभी नेताओं को साथ इस जानकारी को साझा किया है, जिनके आतंकी संगठन के निशाने पर आने की जानकारी सामने आई है। शुरुआती जानकारी के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा ने इस काम के लिए हाथ मिलाया है। दोनों संगठन हथियारों के लिए बांग्लादेश स्थित एक कैडर का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस बात की भी जानकारी है कि जिन आतंकवादियों को यह काम सौंपा गया है, उनमें से कुछ तो सीमा के अंदर दाखिल भी हो चुके हैं।

रिपोर्ट के अनुसार आंतकियों के बीच बातचीत सुनकर पता चला है कि उन्होंने ऐसे एक मुख्यमंत्री को अपना निशाना बनाया है जिनकी सुरक्षा ज्यादा कड़ी नहीं है। हालांकि रिपोर्ट में कहा गया है कि इस इनपुट की अभी पुष्टि करना बाकी है। वहीं विदेशी खुफिया एजेंसी की टीमें बांग्लादेश में उन गुप्त स्थानों की खोजबीन कर चुकी है लेकिन वहां उन्हें कुछ नहीं मिला। सूत्रों की मानें तो जैश के चोटी के आतंकी अजहर पर कार्रवाई और उसके भांजे ताल्हा रशीद को भारतीय सुरक्षा बलों के हाथों मारे जाने से खासे नाराज हैं। कहा जा रहा है कि ताल्हा की मौत से संगठन को काफी बड़ा झटका लगा है। ऐसा इसलिए हैं क्योंकि वो कई बड़े आतंकी हमलों में मुख्य भूमिका में था। इनमें पुलवामा पुलिस लाइंस और श्रीनगर एयरपोर्ट जैसे बड़े हमले शामिल हैं।

बड़ी खबरें

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में जम्मू-कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों की संख्या बढ़ी हैं। क्योंकि देवबंदी ग्रुप घाटी में आतंक की प्रमुख कमान लश्कर की जगह उसे ही देना चाहता है। जानकारी के लिए बता दें कि दो दिन पहले ही कश्मीर के बडगाम में लश्कर के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *