न्यूयॉर्क हमला: अधिकारी बोले- बांग्लादेशी मूल के हमलावार ने ISIS के लिए काम करने की खाई है कसम – New York Terrorist Attacker Accept to Working for ISIS: American Officer

अमेरिका में न्यूयॉर्क के एक मेट्रो स्टेशन पर विस्फोट करने वाले बांग्लादेशी मूल के व्यक्ति ने इस्लामिक स्टेट के लिए निष्ठा रखने की बात कही है। पुलिस ने बताया कि 27 साल के संदिग्ध हमलावर अकायेद उल्लाह के पास तार और एक पाइप बम था जो उसने अपने शरीर से लपेट रखा था। यह विस्फोटक अमेरिका के सबसे बड़े बस टर्मिनल बंदरगाह प्राधिकरण के पास दो सबवे प्लेटफार्म के बीच निर्धारित समय से पहले फट गया। इसमें चार लोग जख्मी हो गए थे। इस धमाके के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई थी। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया कि उसने आईएसआईएस के लिए काम करने की कसम खाई है। उसने जांचकर्ताओं को बताया कि उसने न्यूयॉर्क में हमला करने की योजना बनाई थी। उसने हमले की योजना बनाने का कारण हाल में गाजा पर इस्राइली कार्रवाई को बताया है।

उल्लाह सात वर्ष पहले बांग्लादेश से अमेरिका आया था। उसे सोमवार को पकड़ लिया गया। विस्फोटक के समय से पहले फट जाने के कारण वह खुद भी जख्मी हो गया था। इस आतंकी हमले के प्रयास में तीन अन्य लोग जख्मी हो गए थे। होमलैंड सिक्योरिटी के प्रवक्ता टेलर हौलटन ने बताया कि उल्लाह अब वैध स्थानीय निवासी है। वह एफ43 आव्रजन वीजा पर वर्ष 2011 में अमेरिका आया था। यह वीजा अमेरिकी नागरिकों के भाई-बहनों को जारी किया जाता है। वह ब्रुकलिन में रहता है।

संबंधित खबरें

टैक्सी और लिमोसिन कमीशन के मुताबिक, उल्लाह के पास मार्च 2012 से मार्च 2015 तक टैक्सी लिमोसिन कमीशन का लाइसेंस था। इसके बाद उसके लाइसेंस का नवीकरण नहीं हुआ। उल्लाह ने जांच अधिकारियों को बताया कि उसने अपने कार्यस्थल पर विस्फोटक उपकरण बनाया था। कुछ मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, उसका कार्यस्थल एक इलेक्ट्रिक कंपनी है। उल्लाह ने आईएसआईएस के प्रति काम करने की कसम खाने की बात कही हो लेकिन प्रवर्तन अधिकारियों को उसके और आतंकी संगठन के बीच संबंध साबित करने वाला कोई सुराग नहीं मिला है। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने बताया कि विस्फोटक उपकरण कम तीव्रता वाला था।

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, कई कानून प्रवर्तक अधिकारियों ने बताया कि उल्लाह ने विस्फोट करने के लिए सबवे का स्थान वहां क्रिसमस थीम पर आधारित पोस्टर लगे होने की वजह से चुना। उसने ऐसा करते हुए यूरोप में क्रिसमस बाजारों पर हमले को भी अपने जेहन में रखा था। इसके अलावा सीरिया और अन्य स्थानों पर आईएसआईएस के खिलाफ अमेरिकी हमलों का बदला लेने के लिए भी उसने विस्फोट करने की योजना बनाई थी।

द वाशिंगटन पोस्ट की खबर के मुताबिक, कानून प्रवर्तक अधिकारियों ने बताया कि उल्लाह ने जांचकर्ताओं से कहा है कि वह इस्लामिक स्टेट के प्रचार अभियान से प्रेरित था। अटॉर्नी जनरल जेफ सेशन्स ने बताया कि एक प्रवासी द्वारा आतंकी हमले की कोशिश योग्यता आधारित आव्रजन प्रणाली नहीं अपनाने की वजह से तर्कसंगत और ठोस नीति की असफलता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *