बचाने की पुरजोर कोशिश, पर 15वीं मंजिल से कूदकर मरा, सामने आया दिल दहलाने वाला VIDEO – man suicide from 15 storeys in Peru

दक्षिण अमेरिकी देश पेरू में एक शख्स ने 15वीं मंजिल से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या का वीडियो अब सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। सोसाइड की कोशिश कर रहे शख्स को बचावदल और पुलिस ने बचाने की कोशिश की, लेकिन उसे बचाया नहीं सका। रिपोर्ट के अनुसार पेरू के टॉवर ब्लॉक के ऊपर शख्स द्वारा आत्महत्या की कोशिश और उसे बचाने का ड्रामा काफी देर चलता रहा। वीडियो में देखें तो सुरक्षाकर्मी शुरू में शख्स को पकड़ भी लेता है। हालांकि वह हाथ छुड़ाकर अपनी कोशिश में कामयाब हो गया। वह 100 फीट नीचे एक अपार्टमेंट की तीसरी मंजिल पर गिरा। इस दौरान घटनास्थल पर मौजूद पुलिसकर्मी पूरी घटना को असहाय होकर देखते रहे।

मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जब हम घटनास्थल पर पहुंचे तब एक आदमी (25-30) चिल्ला रहा था। वह आत्महत्या की बात कर रहा था। शख्स द्वारा आत्महत्या का कारण और उसकी पहचान के बारे में अभी तक जानकारी हासिल नहीं हो सकी है। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार घटना क्निवाई शहर की एक रिहायशी इमारत की है।

बड़ी खबरें

बता दें कि इससे पहले राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया था। यहां एक परिवार शख्स को मृत समझ उसका अंतिम संस्कार करने लगा लेकिन दिल्ली पुलिस के एक सीनियर अधिकारी की सूझबूझ से उसकी जान बचा ली गई। दरअसल 18 दिसंबर को पुलिस को सूचना मिली कि बाड़ा हिंदूराव इलाके में एक शख्स ने आत्महत्या कर ली। जिसके बाद एसएचओ संजय कुमार अपनी टीम के साथ शाम को घटना स्थल पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने परिवारिक सदस्यों से पूरे घटनाक्रम की बारीकी जानकारी हासिल की।

कुमार को बताया गया कि राजू (21, आत्महत्या करने वाला शख्स) शाम करीब छह बजे अपने कमरे में गया जबकि पूरा परिवार लीविंग में रूम था। इसके बीस मिनट बाद राजू के पिता बातचीत के लिए उसके कमरे में पहुंचे। लेकिन राजू को छत के पंखे से लटका देख उनके होश उड़ गए। उन्होंने आपातकालीन अलार्म बजाया, जिसके बाद पूरा परिवार कमरे में पहुंचा। उसका शरीर बेडशीट से बनी रस्सी से लटका था। इसके बाद राजू को नीचे उतार पुलिस को मामले की सूचना दी गई।

गौरतलब है कि मामले में पूछताछ के लिए संजय कुमार राजू के उस कमरे का निरक्षण करने के लिए पहुंचे जहां उसने खुद को पंखे से लटका लिया। निरक्षण के दौरान कुमार ने देखा कि जहां राजू ने मरने के इरादे से खुद को लटका लिया वहां फर्श और छत के बीच की दूरी बहुत कम थी। इसपर एसएचओ को अंदेशा हुआ की आत्महत्या की कोशिश के दौरान राजू के पैर फर्श से जरूर छू गए होंगे। ये पूरा घटनाक्रम तब का है जब राजू के परिवार ने उसके अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी थी। वहीं शक के आधार पर जब संजय कुमार एंबुलेंस में रखे उसके शरीर के पास पहुंचे तो पाया उसकी पल्स चल रही थी, परिवार ने जिसे मृत समझा वह राजू अबतक जीवित था। जिसपर उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया और उसकी जान बचा ली गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *