बरकरार रही 20 साल की सजा तो आरोपी ने अदालत में ही पी लिया जहर, मौत – Bosnian Croat war criminal Slobodan Praljak died after drinking poison in court hearing when his 20 year prison term been upheld

बोस्निया-क्रोएशिया के युद्ध अपराधी ने द हेग में चल रही सुनवाई के दौरान जहर पी लिया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। बीबीसी के मुताबिक, स्लोबोदान प्रालजैक (72) ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। संयुक्त राष्ट्र अदालत ने कहा कि अदालत कक्ष ही घटनास्थल बन गया है। अदालत में 20 साल की सजा बरकरार रखने के फैसले के ऐलान के बाद इस बोस्निया क्रोएशिया बल के पूर्व कमांडर ने कहा कि वह युद्ध अपराधी नहीं है और उसने जहर पी लिया। साल 2013 में उसे 1992-1995 के दौरान बोस्निया युद्ध के दौरान मोस्टार शहर में युद्ध अपराधों के लिए सजा सुनाई गई थी।

प्रालजैक क्रोएशिया के उन छह राजनीतिक और सैन्य नेताओं में से एक थे, जिनकी सुनवाई हेग के अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक ट्राइब्यूनल में चल रही थी। फैसले के बाद जनरल प्रालजैक खड़े हुए और अपना हाथ मुंह पर लगा लिया, सिर पीछे किया। उन्हें देखकर ऐसा लगा, जैसे उन्होंने जहर पी लिया। इसके बाद प्रालजैक ने कहा, “मैंने जहर पी लिया है।” जज कार्मेल एगियस ने तुरंत कार्यवाही रोक दी और एंबुलेंस बुलाई। उन्होंने कहा, “ठीक है, हम सुनवाई रोकते हैं। उस गिलास को मत हटाओ, जिससे उसने पीया है।”

बड़ी खबरें

इसके बाद अदालत के बाहर एंबुलेंस आई। घटनास्थल के ऊपर ही हेलीकॉप्टर को भी मंडराते देखा गया। डॉक्टरों की टम तेजी से इमारत के अंदर घुसी। बीबीसी ने आीसीटीवाई के हवाले से बताया, “प्रालजैक को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया।” अब इस मामले की स्वतंत्र जांच चल रही है। आपको बता दें कि स्लोबोदान प्रालजैक पर 8 हजार मुस्लिमों की हत्या करने का आरोप था। इसी बीच प्रधानमंत्री एंड्रेज प्लेनकोविक ने स्लोबोदान प्रालजैक की मौत पर खेद व्यक्त किया है। प्लेनकोविक ने कहा कि बोस्निया-हर्ज़ेगोविना में युद्ध के दौरान में किए गए अपराधों के सभी पीड़ितों के लिए सरकार अपनी संवेदना व्यक्त करती है। उन्होंने कहा कि हम फैसले के बारे में असंतोष और खेद व्यक्त करते हैं।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *