मजे के लिए 17 महिलाओं का मारा चाकू, बिजली कटने पर अंधेरे में बनाता था निशाना – pakistani serial knife attacker given life in prison after stabbing 17 women

पाकिस्तान में 17 महिलाओं पर चाकू से हमला करने वाले एक शख्स (24) को उम्रकैद की सजा सुनाई गई  है। द डॉन की खबर के अनुसार दोषी साबित हो चुका मुहम्मद अली रावलपिंडी में कामकाजी महिलाओं को अपना निशाना बनाता था। वह रात के अंधेरे में बिजली कटने पर घरेलू धारधार चाकू से महिलाओं पर हमला करता। ऐसी ही एक महिला अनम नाज (26, फौजी फाउंडेशन हॉस्पिटल की नर्स) की साल 2016 में मौत हो चुकी है। अली ने नाज को उस वक्त अपना निशाना बनाया जब वह हॉस्पिटल जा रही थी। इसी हमले में नाज की सहयोगी भी घायल हुई थी। पकड़े जाने पर  मुहम्मद अली ने कहा कि उसे महिलाओं से नफरत थी और उनको चोट पहुंचाकर उसे मजा आता था। वह रात के समय बाहर निकलता था और अकेली महिलाओं को निशाना बनाता था।

पूछताछ के दौरान अली ने पुलिस को बताया कि वह एक कनेडियन फिल्म सीरीज से खासा प्रभावित था। जिसके चलते उसने इन अपराधों की साजिश रची। उसने साल 2016 में रावलपिंडी के निवासियों में खौफ पैदा कर दिया था। उसे अगस्त, 2016 में आतंकवाद विरोधी पुलिस ने गिरफ्तार किया था। बाद में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजा कमर सुल्तान ने अली को दोषी पाया और हत्या के लिए उम्रकैद की सजा सुनाई। साथ ही हत्या के प्रयास के मामले में 10 साल जेल की अतिरिक्त सजा सुनाई।

संबंधित खबरें

पूछताछ में अली ने आगे बताया कि उनसे अपना पहला अपराध फरवरी 2016 में किया और शहर छोड़ दिया। हालांकि वह रावलपिंडी में दोबारा वापस आया और महिलाओं पर हमला करने लगा। वह हर रात घर से बाहर निकलता और अंधेरे में महिलाओं को अपना निशाना बनाता। एक बार एक ही रात में उसने तीन महिलाओं पर हमला किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *