रिपोर्ट में खुलासा- ब्रिटिश संसद में रोजाना 160 बार अश्लील वेबसाइटें खोलने की हुई कोशिश – In British Parliament More Than 24000 Attempts have been Made to Watch Pornographic Websites

ब्रिटेन की संसद में पिछले साल जून के आम चुनाव के बाद से पोर्नोग्राफिक वेबसाइटों को देखने की 24,000 से ज्यादा बार कोशिशें की गईं। यह आंकड़ा आधिकारिक तौर पर जारी किया गया है। द गार्जियन की रिपोर्ट में सोमवार को कहा गया, “संसद के नेटवर्क से जुड़े कंप्यूटर और अन्य डिवाइसों पर साल 2017 के जून से अक्टूबर के बीच पोर्नसाइट देखने की कुल 24,473 बार कोशिशें की गईं, इसका मतलब रोजाना औसतन 160 बार इसे देखने की कोशिशें हुईं।”

यह खबर वेस्टमिंस्टर (संसद भवन) में हुए सेक्स स्कैंडल के बाद आई है, जिसमें प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने अपने करीबी डामियन ग्रीन को हटा दिया था, जब पुलिस को वर्ष 2008 में उनके संसदीय कार्यालय के कंप्यूटरों में मिली पोर्नोग्राफी के बारे में उन्होंने भ्रामक जानकारी दी थी। ये आंकड़े सूचना की आजादी (एफओआई) के अनुरोध के बाद जारी किए गए हैं। संसदीय अधिकारियों का कहना है कि पोर्नोग्राफी देखने की ज्यादातर कोशिश नाकाम रही।

संबंधित खबरें

द गार्जियन की रिपोर्ट में कहा गया कि साल 2017 के जनवरी और फरवरी का आंकड़ा संसदीय अधिकारियों ने प्रौद्योगिकी में बदलाव और जिस तरीके से डेटा रखा गया था, उसमें बदलाव के कारण मुहैया नहीं करा पाए। हालांकि आंकड़ों से पता चलता है कि साल 2017 में मार्च से अक्टूबर के बीच पोर्न देखने की कुल 30,876 बार कोशिशें की गईं।

उल्लेखनीय है कि क्रिसमस से पहले ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे को अपने सबसे करीबी सहयोगी और फर्स्ट सेक्रेटरी आॅफ स्टेट (उप प्रधानमंत्री) डैमियन ग्रीन के कैबिनेट से इस्तीफे के कारण बड़ा झटका लगा था। ग्रीन ने उनके द्वारा मंत्रियों की आचार संहिता का उल्लंघन किए जाने की पुष्टि होने के बाद इस्तीफा दे दिया था। संसदीय जांच में यह साबित होने के बाद कि वर्ष 2008 में हाउस आॅफ कॉमन्स कार्यालय में उनके कंप्यूटर पर पोर्नोग्राफी मिलने के दावों के संबंध में ग्रीन ने जानकारी होते हुए गलत और भ्रमित करने वाले बयान देकर मंत्रियों की आचार संहिता का उल्लंघन किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *