woman who predicted about 9/11 said china will overthrow america as a superpower in 2018 so indian challenges will increase – 2018 में अमेरिका को बेदखल कर चीन बनेगा सुपरपावर 9/11 की सही भविष्‍यवाणी करने वाली महिला का दावा

अमेरिका पर 9/11 आतंकी हमले की भविष्‍यवाणी करने वाली महिला ने वर्ष 2018 के लिए पूर्वानुमान जताया है। उनकी बात सच होने पर अगले साल चीन अमेरिका को बेदखल कर सुपरपावर बन जाएगा। ऐसा होने पर विश्‍व व्‍यवस्‍था के मौजूदा ढांचे में कई बदलाव आएंगे। चीन के महाशक्ति बनने पर भारत की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ‘बाल्‍कन की नास्‍त्रेदमस’ के नाम से मशहूर बुल्‍गारिया की बाबा वंगा पूर्व में कई घटनाओं के बारे में सटीक भविष्‍यवाणी कर चुकी हैं। उनका 85 वर्ष की उम्र में वर्ष 1996 में निधन हो गया था। वह दृष्टिहीन थीं। लेकिन, इससे पहले वह 51वीं सदी तक के लिए भविष्‍यवाणी कर चुकी थीं। उनका मानना है कि उसके बाद पृथ्‍वी नष्‍ट हो जाएगी। बताया जाता है कि उन्‍होंने इस्‍लामिक स्‍टेट और मलाला यूसुफजई को लेकर भी भविष्‍यवाणी की थी।

बाबा वांगा ने 2018 के लिए दो बड़ी भविष्‍यवाणियां की हैं। इनमें चीन द्वारा अमेरिका को बेदखल कर सुपरपावर बनने की बात सबसे महत्‍वपूर्ण है। डोनाल्‍ड ट्रंप के राष्‍ट्रपति बनने के बाद कई समस्‍याएं सिर उठा चुकी हैं। इनमें उत्‍तर कोरियाई संकट सबसे ज्‍यादा गंभीर है। कई मोर्चों से अमेरिका के पीछे हटने के कारण वैश्विक मंच पर चीन के लिए स्‍थान बना है। बीजिंग एशिया के अलावा अफ्रीका, लैटिन अमेरिका और यूरोप में लगातार पैर पसार रहा है। ये क्षेत्र अमेरिका के प्रभाव वाले माने जाते हैं, जहां अब उसे चुनौती मिल रही है। चीनी राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग ‘वन बेल्‍ट, वन रोड’ परियोजना के साथ अमेरिका के आर्थिक प्रभुत्‍व को चुनौती दे रहा है। चीन लैटिन अमेरिका भी पहुंच चुका है। लैटिन अमेरिकी देश प्राकृति संसाधनों से संपन्‍न होने के साथ ही अमेरिका के पड़ोस में स्थित हैं।

बड़ी खबरें

…तो क्‍या बढ़ेंगी भारत की चुनौतियां: दक्षिण एशिया में चीन पहले से ही आक्रामक विस्‍तार नीति अपनाए हुए है। बीजिंग म्‍यांमार, बांग्‍लादेश, श्रीलंका, पाकिस्‍तान और मालदीव जैसे देशों में लगातार निवेश कर रहा है। यही वजह है कि नई दिल्‍ली ने अमेरिका, जापान और ऑस्‍ट्रेलिया के साथ रणनीतिक करार किया है। भारत-चीन कई मसलों पर आमने-सामने हैं। पाकिस्‍तान के साथ चीन की बढ़ती निकटता पहले से ही भारत के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। बीजिंग आतंकी हाफिज सईद को प्रतिबंधित करने में भारत की राह में लगातार रोड़ा अटका रहा है। इसके अलावा ‘चीन-पाकिस्‍तान आर्थिक गलियारा’ (सीपीईसी) भी नई दिल्‍ली के लिए सिरदर्द बना हुआ है। यह गुलाम कश्‍मीर से होकर गुजरेगा।

शुक्र ग्रह पर वैकल्पिक ऊर्जा का स्रोत: अगले साल के लिए बाबा वंगा की दूसरी भविष्‍यवाणी ऊर्जा के वैकल्पिक स्रोत से जुड़ा है। उन्‍होंने कहा था कि वर्ष 2018 में शुक्र ग्रह पर ऊर्जा का नया स्रोत मिलेगा। हालांकि, अभी तक किसी देश ने शुक्र पर प्रोब या यान भेजने की योजना नहीं बनाई है। इसके अलावा उन्‍होंने वर्ष 2025-2028 तक गरीबी के पूरी तरह से खत्‍म होने की भी बात कही थी। बाबा वंगा ने ही कहा था कि ‘स्‍टील के दो परिंदे’ अमेरिका पर हमला करेंगे। आतंकियों ने 9/11 के हमलों को विमानाें से अंजाम दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *