पोर्नस्टार का आरोप- अडल्ट सीन फिल्माते वक्त साथी कलाकार ने किया रेप, गालियां भी दीं – Pornstar allegations male actor raped her during shoot

पोर्न एक्ट्रेस निक्की बैंज ने अडल्ट सीन फिल्माते वक्त साथी कलाकार पर रेप का आरोप लगाया है। एक्ट्रेस का आरोप हैं कि इस दौरान उन्हें गालियां भी दी गईं। इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के मुताबिक इसके खिलाफ उन्होंने पोर्न कंपनी ब्राजेर्स की पेरेंट कंपनी माइंडगीक और पोर्न प्रडूसर टोनी टी के खिलाफ मुकदमा दाखिल किया है। निक्की बैंज जिनका असली नाम ऐला मोंटचक है, का कहना है कि साल 2016 में अडल्ट सीन फिल्माने के दौरान उनके चेहरे, सिर और छाती पर मारा गया था। बीते सोमवार (30 अप्रैल, 2018) को लॉस एंजलिस के सुपीरियर कोर्ट में दाखिल याचिका में उन्होंने यह बात कही है। इसमें उन्होंने एडल्ट सीन के दौरान खुद पर हमला, यौन हिंसा, जेंडर हिंसा और अन्य हिंसक आरोप लगाए हैं।

मामले में यूक्रेन-कनेडियन मूल की पोर्टस्टार का कहना है कि शूट से पहले उन्हें बताया गया था कि शूट हार्डकोर होगा और इस दौरान वह क्या पहनेंगी, यही बताया गया था। आरोप है कि शूट के दौरान प्रडूसर टोनी टी ने उनका सिर पकड़ लिया और जबरन अपने हाथों से उनकी आंख खोलने लगे। एक्ट्रेस को गंदी गाली देकर कहा गया कि वो अपनी आंखें खोले। इस दौरान प्रडूसर उनके चेहरे और छाती पर लगातार थप्पड़ मारते रहे। आरोप यह भी है कि शूट के एक्टर नोमार ने भी उनके साथ मारपीट की और बलात्कार किया। एक्ट्रेस को दीवार से खींचकर जमीन गिरा दिया।

बता दें कि घटना के एक महीने बाद जब आरोपी प्रडूसर से मामले में उनका पक्ष देने को कहा तो उन्होंने सभी आरोपों को निराधार बताया था। उन्होंने कहा कि ऐसी कोई घटना नहीं घटी जिसका उन्होंने आरोप लगाया है। उन्होंने तब पूरे शूट के दौरान महज एक बार रुकने को कहा था। इसके तुरंत बाद शूट रोक दिया गया। रिपोर्ट के मुताबिक एक्ट्रेस के आरोपों के बाद दोनों ने बाद में कोई अडल्ट फिल्म नहीं की। दूसरी तरफ कंपनी ने भी आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि कंपनी शूट के दौरान अपनी हद और एक्ट्रेस की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *