Pakeezah Actress Geeta Kapoor Dies In Old Age Home At 57 – वृद्धाश्रम में रहने के लिए मजबूर पाकीजा एक्ट्रेस गीता कपूर ने दुनिया को कहा अलविदा

मशहूर फिल्म एक्ट्रेस गीता कपूर का शनिवार सुबह मुंबई के अस्पताल में निधन हो गया। गीता कपूर ने यादगार फिल्म ‘पाकीजा’ में अपने अभिनय के लिए काफी सुरप्खियां बटोरी थीं। गीता कपूर ने 57 साल की उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह दिया। गीता कपूर पिछले एक साल से मुंहई के ही वृद्धाश्रम में अपने बच्चों का इंतजार कर रही थीं लेकिन वो उन्हें देखने नहीं आये। गीता कपूर मरने से पहले अपने बच्चों से एक बार मिलना चाहती थीं, लेकिन उनकी ये ख्वाहिश पूरी ना हो सकी। पिछले साल गीता कपूर को उनके बेटे ने अस्पताल में भर्ती कराकर छोड़ दिया था। जिसके बाद अशोक पंडित और रमेश तौरानी जैसी फिल्मी हस्तियों ने आगे बढ़ कर उनकी मदद की थी। ट्विटर पर गीता कपूर के पार्थिव शरीर का विडियो शेयर करते हुए अशोक पंडित ने लिखा, ’57 वर्षीय गीता कपूर के पार्थिव शरीर के पास खड़ा हूं जिन्हें उनके बच्चे एक साल पहले एसआरवी अस्पताल में छोड़ कर चले गए थे। सुबरबन ओल्ड एज होम में उन्होंने आज अपनी आखिरी सांस ली। हमने उनका ख्याल रखने का बहुत प्रयास किया लेकिन बेटे और बेटी के लिए उनका इंतजार उन्हें हर दिन कमजोर बनाता जा रहा था।’

संबंधित खबरें

अशोक पंडित ने अपने अगले ट्वीट में बताया कि, ‘गीता कपूर के पार्थिव शरीर को 2 दिन तक विलेपार्ले कूपर अस्पताल में रखा जाएगा। हम आशा करते हैं कि उनके बच्चे उनका अंतिम संस्कार करेंगे, नहीं तो हम अपनी तरफ से गीता कपूर को एक अच्छी अंतिम विदाई देने का पूरा प्रयास करेंगे।’ साथ ही अशोक पंडित ने एसआऱवी अस्पताल के डाक्टर त्रिपाठी और जीवन आशा वृद्ध आश्रम को उनकी देखभाल करने के लिए शुक्रिया अदा किया।

बता दें कि अदाकारा गीता कपूर ने 100 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया था लेकिन उनको कमाल अमरोही की ‘पाकीजा’ के लिए सबसे ज्यादा याद किया जाता है। फिल्म ‘पाकीजा’ में गीता कपूर ने राजकुमार की दूसरी बीवी का किरदार निभाया था जबकि मीना कुमार का मुख्य किरदार था। खबरों की मानें गीता कपूर का बेटा राजा बॉलीवुड इंडस्ट्री में ही कोरियोग्राफर है और उनकी बेटी पूजा एक एयर होस्टेस है। राजा ने ही बीते साल गीता कपूर को लावारिश छोड़ दिया था और फिर कभी उनसे मिलने नहीं आया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *